उद्धव ठाकरे के भाई जयदेव ठाकरे ने किया एकनाथ शिंदे के समर्थन का ऐलान, दशहरा रैली में एक साथ दिखे मंच पर

इंडिया न्यूज, Mumbai News। Dussehra Rally: बुधवार को दशहरे के दिन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे के कुनबे में एक बार फिर सेंध लगा दी है। बता दें कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जब मुंबई के शिवाजी पार्क में दशहरा रैली को संबोधित कर रहे थे तब उनके भाई जयदेव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे का समर्थन करने का ऐलान कर दिया। उद्धव ठाकरे के भाई जयदेव ठाकरे ने कहा कि उनका पूरा समर्थन प्रतिद्वंद्वी एकनाथ शिंदे के साथ है। यही नहीं, बाल ठाकरे के बेटे जयदेव मुंबई के बीकेसी मैदान में दशहरा रैली में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ मंच पर नजर आए।

आप सभी को भी समर्थन करना चाहिए

बता दें कि शिंदे गुट की ओर से दशहरा कार्यक्रम में बोलते हुए जयदेव ठाकरे ने कहा, पिछले 5-6 दिनों से मुझसे पूछा गया है कि क्या आप शिंदे गुट में हैं। ठाकरे किसी भी गुट में नहीं हो सकते। मुझे शिंदे की तरफ से उठाए गए कदम पसंद हैं और प्यार से मैं यहां आया हूं। जयदेव ठाकरे ने जनता को संबोधित करते हुए कहा, एकनाथ को अकेला न छोड़ें। आप सभी को उनका समर्थन करना चाहिए। शिंदे गरीबों और किसानों के लिए काम कर रहे हैं। शिंदे हमारे किसानों के समान हैं, वह बहुत मेहनती हैं।

मेरा पूरा समर्थन एकनाथ शिंदे के साथ है

इसके अलावा उन्होंने कहा कि मैं कहूंगा, शिंदे राज को वापस आने दो। चुनाव होने दो और शिंदे राज को वापस लाओ। मेरा पूरा समर्थन एकनाथ शिंदे के साथ है। उद्धव के भाई को अपने पाले में कर शिंदे ने पार्टी के संस्थापक बाल ठाकरे की विरासत पर अपना दावा तेज कर दिया है। शिंदे शिवसेना के बागी गुट की अगुवाई करते हैं।

बीकेसी के एमएमआरडीए मैदान में हुई शिंदे की अगुवाई वाले गुट की रैली में जयदेव ठाकरे की उनसे अलग रह रही पत्नी स्मिता भी मौजूद थीं। साथ में उद्धव ठाकरे के सबसे बड़े भाई दिवंगत बिंदूमाधव ठाकरे के बेटे निहार भी रैली में मौजूद थे।

बाल ठाकरे के करीबी चंपा सिंह थापा भी पहुंचे थे रैली में

वहीं शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे के 27 साल तक करीबी सहयोगी रहे चंपा सिंह थापा भी रैली में मौजूद थे। पत्रकारों से बातचीत करते हुए स्मिता ठाकरे ने कहा कि शिंदे ने उन्हें रैली के लिए आमंत्रित किया था। बताया जाता है कि बाल ठाकरे के बेटे जयदेव ठाकरे के अपने छोटे भाई उद्धव ठाकरे के साथ मधुर संबंध नहीं हैं।

उद्धव ठाकरे गुट ने भी किया रैली का आयोजन

शिवसेना के उद्धव ठाकरे गुट ने मध्य मुंबई के शिवाजी पार्क में अपनी दशहरा रैली का आयोजन किया था। शिंदे और उद्धव ठाकरे, दोनों ने ही अपने-अपने गुट को असली शिवसेना बताया है। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व के खिलाफ शिंदे की बगावत की वजह से शिवसेना की अगुवाई वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार जून में गिर गई थी।

ये भी पढ़ें : चीन से निपटने की तैयारी में जुटा ताइवान, हथियारों का जखीरा जुटा रहा अमेरिका

ये भी पढ़ें : सांसद कार्तिक शर्मा मुलायम सिंह यादव का हालचाल जानने मेदांता अस्पताल गुरुग्राम पहुंचे

ये भी पढ़ें : बरेली माडल टाउन हरि मंदिर में शस्त्र पूजा के दौरान हवाई फायरिंग, वीडियो हुआ वायरल

ये भी पढ़ें : मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद का सफाया करेगी, पाकिस्तान से नहीं करेंगे किसी भी तरह की बातचीत : अमित शाह

ये भी पढ़ें : 9 अक्टूबर तक देश के कई हिस्सों में भारी बारिश के आसार, इन राज्यों के लिए अलर्ट जारी…

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news