Destination Weddings in Kashmir: डेस्टिनेशन मैरिज के लिए तैयार है कश्मीर, घाटी में राजवीर और जसप्रीत ने अपने शादी को इस तरह बनाया खास

खूबसूरती के मामले में सबको पीछे छोड़ देने वाले कश्मीर को लोग गोली और बारूदों के साथ याद करते हैं। प्यार से भी ज्यादा खूबसूरत इस शहर को दुश्मनी और मार धार के लिए ज्यादा जाना जाता है। इस बात में कोई दो राय नहीं है कि एक बार जो कश्मीर में जाता है उसका मन वादियों में रह जाता है। कश्मीर की खूबसूरती को शब्दों में बयां कर पाना कहां मुमकिन है। विडंबना इस बात की है कि दुल्हन की तरह खूबसूरत इस शहर से डोलियां कम और अर्थियां ज्यादा उठती हैं। लेकिन खास बात ये है कि इन सब बातों को मात देते हुए कश्मीर एक बार फिर दुल्हन बनने को तैयार है। दरअसल घाटी में राजवीर और जसप्रीत की शादी ने कश्मीर में डेस्टिनेशन मैरिज की चर्चा को तेज कर दिया है।

कश्मीर की ये आम रात बन गई खास

हाल ही में दक्षिण कश्मीर में लिद्दर दरिया किनारे स्थित पहलगाम की एक रात को एक खूबसरत कपल ने खास बना दिया। खास होती भी क्यों नहीं, बरसों बाद पहली बार प्रदेश से बाहर रहने वाले एक जोड़े ने अपने रिश्तेदारों और दोस्तों की मौजूदगी में अपनी जिंदगी की नयी शुरुआत की। राजवीर और जसप्रीत ने वरमाला पहनाई। इस शादी ने साबित कर दिया है कि शांति और सामान्य स्थिति की बह रही बयार के बीच कश्मीर घाटी एक बार फिर डेस्टिनेशन मैरिज का एक केंद्र बन रहा है।

कपल ने अपने शादी को इस तरह बनाया खास

चारों तरफ हरी भरी चोटियों के बीच स्थित पहलगाम में राजवीर और जसप्रीत ने अपनी शादी को हमेशा के लिए यादगार बनाने के इरादे से चुना। दोनों शादी करने अपने परिजनों और मित्रों संग कनाडा से आए थे। कश्मीर में पर्यटन क्षेत्र से जुड़े लोगों के मुताबिक, जिस तरह से कश्मीर में हाला बेहतर हो रहे हैं, पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ रही है, कई प्रवासी भारतीय और देश के अन्य राज्यों के रहने वाले कई अन्य लोग वादी के रोमांटिक माहौल में अपने विवाह समारोह आयोजित करने की योजनाएं बना रहे हैं। कई लोगों ने स्थानीय होटल प्रबंधकों और इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों से भी संपर्क किया है।

मैरिज डेस्टिनेशन बनता जा रहा है कश्मीर

बता दें पर्यटन उद्योग से जुड़े फिरदौस ने कहा कि यह पहला अवसर नहीं है जब किसी अन्य राज्य में रहने वाले या किसी विदेशी या प्रवासी जोड़े ने कश्मीर में आकर शादी की हो। कुछ समय पहले पोलेंड के एक जोड़े ने श्रीनगर में शादी की थी। तीन चार वर्ष पहले झेलम दरिया में क्रूस में एक विवाह समारोह सपंन्न हुआ था। डल झील में भी इस तरह की कुछ शादियां हो चुकी हैं, लेकिन जिस तरह से अब लोग यहां अपने विवाह के आयोजन के लिए आ रहे हैं, उसके आधार पर हम कह सकते हें कि कश्मीर अब मैरिज डेस्टिनेशन बनता जा रहा है।

मैरिज डेस्टिनेशन कश्मीर के लिए है फाएदेमंद

पर्यटन विभाग के सचिव सरमद हफीज ने कहा कि हम भी कश्मीर को देश व दुनिया के लोगों के लिए मैरिज डेस्टिनेशन के तौर पर स्थापित करने के लिए अपने स्तर पर प्रयास कर रहे हैं। जम्मू कश्मीर बहुत खूबसूरत है। लोग यहां सिर्फ प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने ही नहीं आएं,हम चाहते हैं कि वह यहां अपनी शादी का भी आयोजन करें। हम इस सिलसिले में कई स्थानीय होटल मालिकों व संचालकों के साथ भी संपर्क बनाए हुए हैं।उन्होंने कहा कि देश में डेस्टिनेशन वेडिंग बाजार करीब 25 हजार करोड़ का है। कश्मीर के मैरिज डेस्टिनेशन के रूप में लोकप्रिय होने से आप स्थानीय पर्यटन क्षेत्र को होने वाले फायदे का अंदाजा लगा सकते हैं।

 

ये भी पढ़ें – भोपाल में चंडीगढ़ एमएमएस कांड जैसा मामला आया सामने, कपड़े बदलते समय बनाय वीडियो, दे रहे हैं वायरल करने की धमकी

Latest news
Related news