Kasganj Case कासगंज मामले में प्रियंका गांधी मिलेंगी पीड़ित परिवार से

Kasganj Case
इंडिया न्यूज, कासगंज:

कासगंज सदर कोतवाली की हवालात में अल्ताफ की मौत के बाद एक बार फिर से यूपी के पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान उठने शुरू हो गए हैं। राजनीति भी गरमाने लगी है। विपक्ष इस मामले पर सरकार को घेरने की तैयारी कर चुका है। एक दिन पहले वीरवार को पीड़ित परिवार से कई कांग्रेस नेताओं ने मुलाकात की और उनको ढांढस बंधाया।

वहीं अब बताया जा रहा है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पीड़ित परिवार से मिलने कासगंज आ सकती हैं। इससे पहले वीरवार शाम को राशिद अल्वी कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद भी गांव नगला सैय्यद में मृतक अल्ताफ के घर पहुंचे थे।

फिलहाल मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस प्रशासन अलर्ट है और शहर में कई जगह जवानों की तैनाती कर दी गई है। गांव नगला सैय्यद छावनी में तब्दील कर दिया गया है। एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस बल तैनात है। शहर में भी सतर्कता बरती जा रही है।

बता दें कि 4 दिन पहले पुलिस कस्टडी में अल्ताफ ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। पहले अल्ताफ के परिजनों ने पुलिस पर हत्या का आरोप लगाया था। लेकिन अल्ताफ के पिता ने बाद में कहा था कि उनका बेटा तनाव में था। इसी कारण उनके बेटे ने फांसी लगा ली होगी। इसके एक दिन बाद उनके पिता ने फिर से पुलिस पर हत्या के आरोप लगाए थे। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट हुआ है कि युवक ने रस्सी से फंदा लगाकर आत्महत्या की।

Read More : Covaxin WHO कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल को WHO की मंजूरी

Connect With Us : Twitter Facebook

Latest news
Related news