कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की हुंकार

मुजफ्फरनगर में महापंचायत में पहुंचे राकेश टिकैत सहित सभी प्रमुख किसान नेता
हजारों की संख्या में किसानों का जमावड़ा, भारी संख्या में किसानों का आना जारी
इंडिया न्यूज, उत्तर प्रदेश :
किसान संगठनों का कृषि कानूनों को लेकर नवंबर 2020 से आंदोलन लगातार जारी है। जहां किसान संगठन किसी भी कीमत पर कृषि कानून रद कराने पर अड़े हुए हैं वहीं केंद्र सरकार अभी भी कृषि कानूनों को किसानों के लिए लाभकारी बताकर इन्हें लागू करने में जुटी है। वहीं इन कृषि कानूनों के खिलाफ मुजफ्फरनगर में देश भर के किसान संगठनों की महापंचायत शुरू हो गई है। महापंचायत के मंच पर तमाम प्रमुख किसान संगठनों के नेता मौजूद हैं। वहीं किसानों को उम्मीद है कि राकेश टिकैत व अन्य किसान नेता आज कोई ऐसी घोषणा करेंगे जिससे केंद्र सरकार को इन कृषि कानूनों को वापस लेने पर सोचने के लिए मजबूर होना पड़े। उधर मुजफ्फरनगर में होने वाली महापंचायत को लेकर किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी है। जिले के बॉर्डर को हाई अलर्ट पर रखा गया है। भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत समेत अनेक खापों के चौधरी पंचायत स्थल पर मौजूद हैं। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा पूरी व्यवस्था की गई है।। चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है। निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। ज्ञात रहे कि महापंचायत के लिए हरियाणा व पंजाब से सैकड़ों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों के काफिले एक दिन पहले ही महापंचायत के लिए तय स्थान पर पहुंच गए थे। इसी तरह देश के अन्य हिस्सों से भी किसानों के जत्थे पहुंचे हैं। हाईवे पर दूर-दूर तक ट्रैक्टर ट्रॉली का काफिला दिखाई दे रहा है। इस दौरान हाईवे पर जाम की स्थिति भी बनी हुई है।

Latest news
Related news