Republic Day: दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर बढ़ाई गई सुरक्षा, बनाया गया बहुस्तरीय सुरक्षा कवच

नई दिल्ली (Around 60,000 to 65,000 people are expected to participate in the Republic Day celebrations this time) : पिछले दो-तीन महीनों से होटलों, धर्मशालाओं, गेस्ट हाउस, सिनेमा हॉल, पार्किंग स्थल और बस टर्मिनलों में वेरिफिकेशन ड्राइव चलाया जा रहा है।

सुरक्षा के पुखता इंतजाम

देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है। अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए गणतंत्र दिवस समारोह से पहले बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पुलिस ने एंटी साबोटाज चेक्स, सत्यापन अभियान और गश्त को तेज कर दिया है क्योंकि इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में लगभग 60,000 से 65,000 लोगों के भाग लेने की उम्मीद है।

पुलिस ने कहा कि बम निरोधक टीम द्वारा डॉग स्क्वॉड के साथ बाजारों, अधिक भीड़ वाले क्षेत्रों और अन्य प्रमुख स्थानों पर एंटी साबोटाज जांच की जा रही है। पिछले दो-तीन महीनों से होटलों, धर्मशालाओं, गेस्ट हाउस, सिनेमा हॉल, पार्किंग स्थल और बस टर्मिनलों में वेरिफिकेशन ड्राइव चलाया जा रहा है। इसके अलावा, पुलिस कर्मचारियों के साथ-साथ अर्धसैनिक बल के जवानों को सुरक्षा के बारे में नियमित रूप से जानकारी दी जा रही है साथ ही साथ दिन और रात की गश्त को भी तेज कर दिया गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं, जिनमें से कुछ में चेहरे की पहचान की सुविधा है, उन्होंने कहा कि शहर में नियमित ग्रुप फुट पेट्रोलिंग और पिकेट पर सघन जांच से क्षेत्र का प्रभुत्व और पुलिस की दृश्यता में वृद्धि हुई है।

इस बार क्यूआर कोड से होगी इंट्री

इस साल प्रवेश, पास पर दिए गए क्यूआर कोड के आधार पर होगी। पुलिस उपायुक्त (नई दिल्ली) प्रणव तायल ने कहा कि वैध पास या टिकट के बिना किसी भी व्यक्ति को अनुमति नहीं दी जाएगी। दिल्ली पुलिस की आंतरिक बैठकों के अलावा, सुरक्षा में कोई चूक न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए अंतर-राज्य समन्वय बैठकें आयोजित की गई है और मॉल, बाजारों, रेलवे और मेट्रो स्टेशनों और बस टर्मिनलों पर चेकिंग तेज कर दी गई है।

Latest news
Related news