कामनवेल्थ गेम्स में बिना किसी तनाव जी भरकर खेलें भारतीय खिलाड़ी : प्रधानमंत्री

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमेशा की तरह इस बार भी कामनवेल्थ गेम्स में भाग लेने वाले देश के खिलाड़ियों और कोचों से आज बात की। गौरतलब है कि 28 जुलाई से कामनवेल्थ गेम्स शुरु हो रहे हैं और इसी दिन चेस ओलंपियाड की भी शुरुआत हो रही है। कुछ खिलाड़ी वर्ल्ड चैंपियनशिप खेलने के लिए ओरेगन में हैं वहीं बाकी सभी खिलाड़ी व कोच अपनी-अपनी तैयारियों में व्यस्त हैं, इस वजह से पीएम ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिये उनसे बात की। उन्होंने कहा कि भारतीय खिलाड़ी कामनवेल्थ गेम्स में दबाव के बजाय बिना किसी तरह के तनाव के जी भरकर खेलें।

खिलाड़ी मेडल जीतें या न जीतें, पीएम हमेशा बढ़ाते हैं मनोबल

मोदी ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों के लिए अगले 15 दिन काफी बेहतर हैं और उम्मीद है कि वे पूरे दम-खम के साथ कामनवेल्थ गेम्स खेलेंगे। दुनिया में शायद ही ऐसा कोई देश होगा जहां के प्रधानमंत्री अपने देश के प्लेयरों का मनोबल बढ़ाते हों। हमारे देश के खिलाड़ी मेडल जीतें या नहीं जीत पाएं, पीएम मोदी हमेशा उनका मनोबल बढ़ाते हैं।

पहले बार खेल रहे 65 से ज्यादा एथलीट से भी बेहतर योगदान की उम्मीद

कामनवेल्थ गेम्स में भारत की तरफ से इस बार 217 एथलीट भाग लेंगे। इनमें से 65 ऐसे हैं जो पहली बार इन खेलों में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री ने इन एथलीटों को खासतौर पर शुभकामनाएं दीं हैं। उन्होंने जीत का मंत्र देते हुए सभी खिलाडियों से कहा कि लक्ष्य वही है कि तिरंगे को लहराता देखना है। इसके अलावा पीएम ने कि जमकर खेलिएगा। उन्होंने कहा, मुझे भरोसा है कि पहली बार भाग ले रहे 65 से ज्यादा एथलीट भी इन खेलों में अपनी जबरदस्त छाप छोड़ेंगे। मोदी ने कहा कि यह समय भारतीय खेलों के इतिहास का एक तरह से सबसे अहम है। उन्होंने कहा, मैं पहली बार मैदान पर उतरने वालों को कहूंगा कि मैदान बदला है मिजाज नहीं।

खासकर खेल के हर बड़े इवेंट से पहले प्लेयर से बात करते हैं मोदी

प्रधानमंत्री ने बातचीत की शुरुआत 3000 मीटर स्टीपलचेज एथलीट अविनाश साबले से की। उन्होंने उन्हें आगामी कामनवेल्थ गेम्स के लिए शुभकामनाएं दी और उनसे कुछ सवाल पूछे। एक वक्त सियाचिन में पोस्टेड अविनाश से मोदी ने महाराष्ट्र से उनकी सियाचिन व फिर उनके स्टीपलचेज की जर्नी को लेकर बात की। गौरतलब है पीएम हर बड़े स्पोर्टिंग इवेंट से पहले खिलाड़ियों से बात करके उनका हौसला बढ़ाते हैं।

ये भी पढ़े : रोजमर्रा की 14 चीजों पर नहीं लगेगा जीएसटी : वित्त मंत्री

ये भी पढ़े : 80.05 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंचा रुपया, जाने क्या होगा असर

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news