मनीष तिवारी लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव?

कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होना है.

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली, Manish Tewari to contest Congress president poll?): कांग्रेस में सोनिया गाँधी के बाद कौन अध्यक्ष होगा इसको लेकर मंथन चल रहा है। इसके लिए कई नेता दावेदारी कर रहे है। दावेदारों की सूची में नवीनतम नाम पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी का है.

पार्टी ने आज एक आधिकारिक अधिसूचना जारी कर पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए कार्यक्रम की घोषणा की। सभी प्रदेश कांग्रेस समितियों में 17 अक्टूबर को चुनाव होने हैं और मतगणना के तुरंत बाद 19 अक्टूबर को परिणाम घोषित किए जाएंगे। श्री आनंदपुर साहिब के सांसद के करीबी सूत्रों ने गुरुवार को कहा कि मनीष तिवारी अध्यक्ष के चुनाव में हाथ आजमा सकते है क्योंकि सोनिया गांधी ने यह स्पष्ट कर दिया था कि कोई भी चुनाव में भाग ले सकता है।

मनीष तिवारी जी-23 के नेता 

पार्टी के कई शीर्ष नेताओं के मैदान में होने की खबरों के बीच तिवारी भी चुनाव लड़ने पर विचार कर रहे है। मनीष तिवारी असंतुष्टों के समूह जी-23 का हिस्सा हैं, जिन्होंने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी में सुधार की मांग की थी.

दिलचस्प बात यह है कि इस साल 26 अगस्त को दिग्गज नेता और समूह के सदस्य गुलाम नबी आजाद के बाहर होने के बाद अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने पर विचार करने वाले मनीष तिवारी G -23 समूह के एकमात्र नेता हैं। गुलाम नबी आज़ाद ने कांग्रेस की संगठनात्मक चुनाव प्रक्रिया को “एक तमाशा और एक दिखावा” करार देते हुए पार्टी छोड़ दिया था.

कई नेता है दावेदार

राहुल गांधी, इस समय अपनी भारत जोड़ी यात्रा पर हैं, उनके चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की संभावना नहीं है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सोनिया गांधी के उत्तराधिकारी के रूप में गांधी परिवार की शीर्ष पसंदों में से एक हैं.

19 सितंबर को, कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने भी दिल्ली में सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की, जहां उन्होंने पार्टी में “आंतरिक लोकतंत्र बनाने” के लिए चुनाव लड़ने की इच्छा व्यक्त की। सोनिया गांधी ने शशि थरूर को अपनी मंजूरी देते हुए कहा कि कोई भी चुनाव लड़ सकता है। थरूर ने बुधवार को पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री से भी मुलाकात की थी.

वही कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह भी अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ सकते है। गुरुवार को दिग्विजय सिंह दिल्ली पहुंचेंगे, जहां उनके पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने की संभावना है। कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होना है और मतों की गिनती 19 अक्टूबर को होगी.

मिस्त्री के अनुसार जो लोग अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ना चाहते हैं, उन्हें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के 10 प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर की आवश्यकता होगी.

Latest news
Related news