मणिपुर में भूस्खलन, आर्मी के  50 से ज्यादा जवान दबे, 6 शव बरामद

इंडिया न्यूज, इंफाल:
पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में पिछले कई दिन से भारी बारिश के चलते बड़ा हादसा हो गया है। तुपुल रेलवे स्टेशन के पास भूस्खलन हो गया है, जिसकी चपेट में टेरिटोरियल आर्मी का एक कैंप आ गया और 50 से अधिक जवान मलबे में दब गए। बुधवार रात को यह दुर्घटना हुई। छह लोगों के अब तक शव बरामद कर लिए गए हैं। नोनी के डिप्टी कमिश्नर ने यह पुष्टि की है।

नदी अवरुद्ध, निचले इलाकों के जलमग्न होने का खतरा

भूस्खलन के कारण बड़ी मात्रा में मलबा गिरा है और इसके चलते इजेई नदी अवरुद्ध हो गई है। इसका नतीजा यह हुआ है कि एक जलाशय बन गया है जो निचले इलाकों के लिए खतरा बन गया है। भारी पानी आने के कारण इन इलाकों के जलमग्न होने की आशंका पैदा हो गई है।

नोनी जिला मुख्यालय के निचले इलाके पूरी तरह जलमग्न हो सकते हैं

डीसी ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि इजेई नदी का प्रवाह भी भारी मलबे के कारण बाधित हो गया है। उन्होंने कहा कि भंडारण की स्थिति यदि भंग हुई तो नोनी जिला मुख्यालय के निचले इलाके पूरी तरह जलमग्न हो सकते हैं। उन्होंने कहा, तुुपुल यार्ड रेलवे निर्माण शिविर में भूस्खलन से 50 से अधिक लोग मलबे में दब गए हैं।

आज सुबह शुरू हुआ बचाव कार्य

शुरुआती जानकारी के अनुसार जिरीबाम को इंफाल से जोड़ने के लिए एक रेलवे लाइन का निर्माण कार्य चल रहा है और इसकी सुरक्षा के लिए 107 टेरिटोरियल आर्मी जवान लगाए गए थे। आज सुबह असम रायफल्स, सेना, व मणिपुर पुलिस की ओर से बड़े पैमान पर बचाव अभियान शुरू किया गया। अब तक छह डेड बॉडी निकाली गई हैं।

ये भी पढ़े : दिल्ली-एनसीआर, आसपास व हरियाणा-चंडीगढ़ में जोरदार बारिश

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

 

Latest news
Related news