ऐसे सात व्यंजन जो आप नवरात्रि के उपवास में खा सकते है

नवरात्रि के दौरान 9 दिन का उपवास रखा जाता है.

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली, Foods during navratri fasting): सबसे बड़े भारतीय त्योहारों में से एक, नवरात्रि, पूरे देश में बड़े उत्साह के साथ शुरू हो चुका है। 9 दिनों तक चलने वाला यह त्योहार उपवास और देवी दुर्गा के अवतारों की पूजा करके मानने कि परम्परा है.

हिनू धर्म में, उपवास को देवी का आभार व्यक्त करने का एक तरीका माना जाता है। आम तौर पर लोग इस दौरान अपने खाने में अनाज, मांस, शराब, प्याज, लहसुन और बासी खाद्य पदार्थों को नही खाते और कुट्टू का आटा, सिंघारा आटा, ताजी सब्जियां, फल, दूध उत्पाद और सूखे मेवे जैसे खाद्य पदार्थों का विकल्प चुनते हैं.

साबूदाना खिचड़ी, फ्रूट चाट, खीर और कुट्टू की पूरी जैसे व्यंजन नवरात्रि के दौरान बनाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय व्यंजन हैं। यदि आप नौ दिनों के उपवास की तैयारी कर रहे हैं, तो जाने उपवास के दौरान कौन से चीजें खाने के लिए जल्द से जल्द बना सकते है –

1. साबूदाना खिचड़ी– मौसमी परिवर्तन के दौरान मानव शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। इसलिए, साबूदाना से तैयार किया गया व्यंजन फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि यह प्रोटीन और फाइबर से भरपूर एक भोजन है और पाचन में सुधार करने में भी मदद करता है।

साबूदाने की खिचड़ी भीगे हुए साबूदाना, आलू, घी, कसा हुआ नारियल, हरी मिर्च, भुनी हुई मूंगफली और धनिया को इस में मिलाकर बनाई जाती है। कार्बोहाइड्रेट से भरपूर, यह व्यंजन आपका पेट अधिक समय तक भरा रखेगा और आपको तुरंत ऊर्जा भी देगा। साथ ही साबूदाना खीर और साबूदाना वड़ा भी एक बेहतरीन फास्टिंग के दौरान अच्छे आप बना सकते है.

2. बाजरा की टिक्की– साबूदाने के साथ, सम के चावल, जिसे बाजरा के रूप में जाना जाता है, उपवास के दिनों में उपयोग किया जाता है। चूंकि इस सामग्री के साथ व्यंजन बनाना आसान है और यह काफी बहुमुखी है। टिक्की को प्रेशर कुकर में जीरा, हरी मिर्च, धुले हुए सम के चावल, पानी जैसी सामग्री डालकर बनाया जाता है.

एक सीटी आने के बाद कुकर को आंच से उतार लें और ठंडा होने के लिए रख दें। अब चावल के साथ आलू, हरी मिर्च, भुनी हुई मूंगफली और धनियां मिला लें और फिर कुछ देर के लिए फ्रिज में रख दें। अंत में, टिक्की को कुरकुरा और सुनहरा भूरा होने तक तलें। इसे मिंट-दही डिप के साथ गर्मागर्म परोसे.

3. बाजरा उत्तपम– आप बाजरा (समक के चावल ) के साथ उत्तपम का स्वाद ले सकते हैं, इस व्यंजन को अपने कुरकुरे बनावट के कारण नाश्ते के रूप में खाया जा सकता है। थोड़ा तीखपन के लिए आप घोल में कटे हुए टमाटर डाल सकते हैं और इसे गर्म तवे पर पका सकते हैं। कटा हरा धनिया छिड़कें और यह तैयार हो जाता है। फिर इसे अपनी पसंद के किसी भी डिप के साथ परोसें.

4. समा इडली– यह नमकीन चावल केक डिश, समा चावल और व्रत के दौरान इस्तेमाल किए जाने वाले मसालों के घोल को भाप देकर बनाई जाती है। इडली को धनिये की चटनी के साथ परोसें और इसे रात के खाने या नाश्ते में अपने ‘फास्ट फूड’ के रूप में लें.

5. कुट्टू दोसा– आमतौर लोग कुट्टू कि पूरी और आलू कि सब्ज़ी बनाते है। लेकिन नवरात्र के कारण आप इसमें थोड़ा संशोधन कर सकते और कुछ नया अपना सकते है। आलू के भरावन से भरा गरमा-गरम कुरकुरे डोसा का एक टुकड़ा स्वाद, उपवास के दौरान कुछ स्वादिष्ट खाने की आपकी इच्छा को तृप्त करने के लिए पर्याप्त होगा.

विधि पूरी और आलू कि सब्ज़ी वाली ही है, बस चावल के आटे को कुट्टू के आटे से बदलें। इसे धनिया, नारियल या घर की बनी टमाटर की चटनी के साथ गरमा-गरम परोसें.

6. व्रतवाला ढोकला- अपने उपवास के दिनों में इस हल्के ढोकला रेसिपी को ट्राई करें। इसे उबले हुए सम्वत के चावल, साबुत लाल मिर्च, जीरा, घी और करी पत्ता के साथ बनाया जाता है। इसे पुदीने की चटनी के साथ परोसे.

7. मखाना खीर– भारत में कोई भी त्यौहार बिना मिठाई के पूरा नही होता है और इसलिए यहाँ यहाँ उत्सव के दौरान मिठाई का विशेष उल्लेख है। मखाना खीर लगभग उसी तरह बनाई जाती है जैसे आप चावल की खीर बनाते हैं। आपको बस चावल को मखाना से बदलना है, जो उपवास के दौरान खाने के लिए एक बहुत अच्छा स्वस्थ नाश्ता है क्योंकि उसमें कोलेस्ट्रॉल कम होता हैं, पोटेशियम से भरपूर होता हैं और इसलिए यह रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए अच्छे होते हैं.

Latest news
Related news