केरल में पीएफआई के 500 कार्यकर्त्ता गिरफ्तार, 400 हिरासत में

गुरुवार को एनआईए द्वारा पीएफआई के 93 ठिकानों पर छापा मारा गया था.

इंडिया न्यूज़ (तिरुवनंतपुरम, 500 PFI Workers Arrested for violence in kerala): पीएफआई द्वारा एनआईए के छापों के विरोध में 12 घंटे के बंद के दौरान हिंसक विरोध प्रदर्शन के मामले में शुक्रवार को 500 से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया और 400 अन्य को निवारक हिरासत में रखा गया है। केरल पुलिस के अनुसार विरोध प्रदर्शनों के दौरान कन्नूर के मत्तनूर में एक आरएसएस कार्यालय पर पथराव और बमबाजी भी की गई.

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी), कानून और व्यवस्था, विजय सखारे ने अपने बयान में कहा कि “आज के बंद के दौरान हुई हिंसा के संबंध में 500 पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है और 400 को निवारक हिरासत में रखा गया है। मट्टनूर में आरएसएस कार्यालय में पथराव की दो घटनाएं हुईं।”

 

एडीजीपी ने एक अन्य घटना का भी ब्योरा दिया जहां विस्फोटक उपकरण ले जाने के आरोप में गिरफ्तारियां की गईं। सखारे ने कहा, “एक अन्य मामले में, एक बम के साथ मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। बाद में तीन और लोगों को गिरफ्तार किया गया। सभी पांचों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वर्तमान में स्थिति सामान्य है और नियंत्रण में है।”

पीएफआई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में बंद के दौरान मत्तनूर में आरएसएस कार्यालय पर एक पेट्रोल बम भी फेंका गया था। खबरों के मुताबिक, एक स्कूटर पर सवार दो लोगों ने संघ कार्यालय पर पेट्रोल बम फेंका, जिससे खिड़की के शीशे टूट गए.

पुलिस के मुताबिक, प्रदर्शन के दौरान राज्य में कई जगहों पर पथराव की घटनाएं सामने आई हैं। सरकारी बसों में पत्थरबाजी की बहुत साड़ी घटनाएं देखने को मिली। राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम में पुंथुरा में हमले के बाद एक ऑटो रिक्शा और एक कार क्षतिग्रस्त अवस्था में देखे गए। कोट्टायम में सड़कें सूनी नजर आईं.

गुरुवार को एनआईए ने देशभर के 93 ठिकानों पर छापा मार कर पीएफआई के 106 से ज्यादा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था.

यही भी पढ़े: पीएफआई के बंद के दौरान सरकारी बसों में तोड़-फोड़, बस ड्राइवर ने पहनी हेलमेट 

Latest news
Related news