पटना में बेखौफ बालू माफिया के 2 गुटों में ताबड़तोड़ फायरिंग, 5 की मौत, कई घायल

इंडिया न्यूज, Bihta News, (Patna)। Firing In Patna: बुधवार देर रात बिहार की राजधानी पटना से लगते बिहटा के दियारा इलाके में अवैध बालू खनन को लेकर 2 गुटों में झड़प हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि दोनों ओर से गोलियां चलने लगीं। जिस कारण 5 से ज्यादा लोगों के मारे जाने का मामला सामने आया है। इसमें बालू माफिया मोस्टवांटेड मनेर के गोरैया स्थान निवासी शत्रुघ्न राय, व्यापुर निवासी 2 एवं 2 बिहिया 2 मजदूरों का नाम सामने आ रहा है। कई लोगों के घायल होने की बात आ रही है।

वहीं अभी तक इस मामले में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है न ही पुलिस के द्वारा पुष्टि की गई है। पुलिस मौके पर पहुंचकर सर्च अभियान चला रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद कई थाने की पुलिस पहुंच गई है।

सोन नदी से बालू के अवैध खनन को लेकर हुआ विवाद

जानकारी के अनुसार बिहटा के अमनाबाद में सोन नदी से बालू के अवैध खनन को लेकर दो गुटों के बीच रात 11 बजे से फायरिंग की शुरूआत हुई। वर्चस्व की लड़ाई में दोनों ओर से ताबड़तोड़ फायरिंग की जाने लगी। बेखौफ बालू माफिया गोलियां बरसाते रहे।

ग्रामीणों का कहना है कि पांच से सात लोगों की मौत गोलीबारी में हुई है। गोली लगने से कई लोग घायल भी हुए हैं। घायलों का इलाज आसपास के अस्पतालों में पुलिस से छिपकर कराया जा रहा है।

हालांकि, बिहटा थानाध्यक्ष ने कहा कि जब तक शव नहीं मिल जाता, तब तक पुष्टि कैसे की जा सकती है। नदी और बालू में जांच-पड़ताल की जा रही है।

घटनास्थल पर मिले खून के धब्बे और गोलियों का डब्बा

बताया जाता है कि जहां यह घटना हुई है, वह काफी दुर्गम इलाका है। वहां जाने से पुलिस भी हिचकती है। यही कारण है कि रात 11 बजे से हो रही गोलीबारी की घटना के बावजूद पुलिस गुरुवार सुबह पहुंची।

घटनास्थल पर खून के धब्बे मिले हैं। गोलियों का डब्बा भी मिला है। ग्रामीणों का कहना है कि यहां बालू माफिया की वजह से दहशत का माहौल रहता है। कोई कुछ कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाता।

ये भी पढ़ें : शेयर बाजार गिरने की मुख्य वजह आई सामने, एफपीआई ने अपनाया सुस्त रवैया

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news