चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में रात को छात्रों ने फिर किया प्रदर्शन, एमएमएस कांड में छात्रा सहित अब तक 3 गिरफ्तार

इंडिया न्यूज,(CU MMS Case): चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में 60 छात्राओं के नहाने का वीडियो वायरल मामले में विद्यार्थियों का धरना देर रात खत्म हो गया है। इस मामले में रोपड़ रेंज के डीआईजी गुरप्रीत भुल्लर और मोहाली के डीसी अमित ने भरोसा दिया कि उनकी सभी मांगों को माना जाएगा। यूनिवर्सिटी में 24 सितंबर तक नॉन टीचिंग डे रहेगा। इस मामले से सहमी लड़कियों ने हॉस्टल खाली करने शुरू कर दिए हैं। उनके माता-पिता सुबह ही बेटियों को लेने पहुंच गए।

देर रात 2 आरोपी गिरफ्तार

छात्राओं के बढ़ते आक्रोश के चलते पुलिस भी काफी मुस्तैद हो गई और देर रात ही दो युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एक युवक रंकज वर्मा (31) शिमला के ढली से जबकि दूसरे आरोपी सन्नी मेहता (23) को रोहड़ू से अरेस्ट किया गया। वीडियो बनाने वाली लड़की (रोहडू) को पहले ही दबोचा जा चुका है। मालूम हुआ है कि रंकज (ट्रेवल एजेंसी में काम करता है जबकि सन्नी एक बेकरी में काम करता है।

वी वॉन्ट जस्टिस के लगाए नारे

कल यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट ने प्रदर्शन कर रही लड़कियों को रोकने के लिए टैगोर हॉस्टल के गेट पर ताला लगा दिया था। लेकिन फिर भी लड़किया 10 फुट को गेट फांदकर प्रदर्शन में शामिल हो गई। इस दौरान लड़कियों ने वॉन्ट जस्टिस के नारे लगाए।

प्रदर्शनकारी छात्राओं के अनुसार, आरोपी लड़की खुद मान चुकी है कि उसने हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों के वीडियो बनाकर अपने दोस्त को भेजे मगर पंजाब पुलिस कह रही है कि लड़की ने सिर्फ अपना वीडियो बनाया। इसके अलावा चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के कुछ अधिकारियों ने लड़कियों के कपड़ों को लेकर भी कमेंट किए। इससे उनमें नाराजगी है।

कई छात्राओं के खुदकुशी के प्रयास की खबरें झूठी : यूनिवर्सिटी प्रशासन

वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन का कहना है कि इस मामले में कई छात्राओं ने सुसाइड का प्रयास किया, यह खबर बिल्कुल निराधार है। वीडियो बनाने वाली छात्रा से हॉस्टल में लड़कियों ने ही पूछताछ की। इसका एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें आरोपी छात्रा का कहना है कि उसने ये वीडियो दबाव में बनाए। ज्यादा सवाल किए जाने पर वो अपने मोबाइल फोन में एक लड़के का फोटो दिखाती है।

Latest news
Related news