मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया गंगा जल आपूर्ति योजना का लोकार्पण, राजगीर व गया को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट गंगा जी राजगीर के दूसरे चरण में आज मुख्यमंत्री ने राजगीर के अंतर्राष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर में घरों तक गंगा जल आपूर्ति योजना का लोकार्पण किया। इस मौके पर कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि आज बहुत खुशी का दिन है। जल जीवन हरियाली का ही यह हिस्सा है।

4475 करोड़ की लागत से गंगा जल आपूर्ति योजना का लोकार्पण

आगे नीतीश कुमार  ने कहा कि 4475 करोड़ की लागत से गंगा जल आपूर्ति योजना का लोकार्पण किया जा रहा है । गंगाजल उद्वह परियोजना के तहत राजगीर के अलावा गया, बोधगया और नवादा को गंगाजल की आपूर्ति की जानी है। इन सभी जगहों पर गंगाजल को शुद्ध कर पेयजल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। इस योजना को तीन चरणों में पूरा किया जाना है। पहले चरण के तहत इस योजना पर पहले 2836 करोड़ रुपये खर्च किये जाने थे। लेकिन कोरोना की वजह से विलंब होने से लागत बढ़कर 4475 करोड़ कर दिया गया है।

नालंदा गया जिले के लोगो को रोजाना मिलेगा 135 लीटर गंगाजल 

इस योजना के तहत नवादा नालंदा गया जिले के लोगो को रोजाना 135 लीटर गंगाजल मुहैया कराया जाएगा। लगातार जलसंकट को देखते गंगाजल आपूर्ति योजना एक रामबाण साबित होगा। क्योंकि गंगा जल से लोगो को जल की आपूर्ति की जाएगी तो जलसंकट दूर होगा और भूगर्भ का जलस्तर भी बरकरार रहेगा।

नालंदा गया जिले में लगातार जलस्तर में गिरावट

जलवायु परिवर्तन के कारण नवादा नालंदा गया जिले में लगातार जलस्तर में गिरावट आ रही है। सुखाड़ बाढ़ की त्रासदी का दंश भी झेलना पड़ता था। हमने लगातार राजगीर में विकास करने का काम किया है।राजगीर के सारे इतिहास को जिंदा रखने का काम किया शेष राजगीर में बचे हुए जरासन्ध अखाड़े का काम बच गया है । जरासन्ध अखाड़े के आस पास के जमीन पर जरासन्ध का स्मारक का निर्माण किया जाएगा। हमने सबका साथ सबका विकास की राह पर चलकर लोगों की सेवा करने का काम किया है।

गंगाजल को गया राजगीर नवादा में लाना कल्पना से परे

इस दौरान डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के कार्यों को सराहा। इस मौके पर डिप्टी सीएम तेजश्वी यादव ने कहा कि गंगाजल को गया राजगीर नवादा में लाना वाकई कल्पना से परे है। दक्षिण बिहार की जो जिले हैं जैसे गया,नालंदा,नवादा इन इलाकों में वाटर लेवल काफी कम है इन इलाकों में गंगाजल पहुंचना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की दूरदृष्टि सोच है। इस योजना का पूरा श्रेय बिहार सरकार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जाता है। डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि इस योजना का समय पर धरातल पर उतारना यह साबित करता है कि नीतीश कुमार बोलने में नहीं बल्कि काम करने में विश्वास रखते हैं। बता दें मौके पर जल संसाधन मंत्री संजय झा , प्रभारी मंत्री विजय चौधरी , ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार के अलावे कई लोग मौजूद थे।

Latest news
Related news