Ankita Bhandari Murder: लोगों ने बद्रीनाथ-ऋषिकेश हाईवे किया जाम, रिसॉर्ट पर चले बुलडोज़र पर उठे सवाल

इंडिया न्यूज़, देहरादून: (Ankita Bhandari Murder) : उत्तराखंड में पूर्व मंत्री व बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट अंकिता (19) भंडारी की हत्या को लेकर रविवार को भी देवभूमि उत्तराखंड में लोगों में गम व गुस्सा बरकरार रहा। एक और अंकिता के परिजन जहां शव के दोबारा पोस्टमार्टम की मांग को लेकर अड़े रहे वहीं दूसरी ओर लोगों ने हत्याकांड के विरोध में जगह-जगह धरना, प्रदर्शन कर गुस्से का इजहार किया।

मांग को लेकर लोगों ने किया बद्रीनाथ हाईवे जाम

वे आरोपियों को तत्काल फांसी की सजा देने की मांग कर रहे थे। उत्तराखंड में अंकिता के होम टाउन श्रीनगर में शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग को लेकर लोगों ने बद्रीनाथ हाईवे जाम कर किया। कांग्रेस, वामपंथी संगठन, छात्र संगठन के लोग हाईवे पर धरने पर बैठ गए। उधर अंकिता के पिता ने लोगों से अपील की वह प्रदर्शन के दौरान सड़कें जाम न करें। अंकिता हत्याकांड पर महिलाएं भी मुखर हो रही हैं। उन्होंने अंकिता के फोटो वाली तस्वीरें उठाकर इंसाफ की मांग की।

रिसॉर्ट किया आग के हवाले

इससे पहले, शनिवार को नाराज लोगों ने आरोपी पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में आग लगा दी थी। शुक्रवार को कोर्ट में पेशी के लिए ले जाते समय महिलाओं ने आरोपियों को जमकर पीटा था। पुलकित आर्य के अलावा उसके रिजॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित उर्फ पुलकित गुप्ता को मामले में गिरफ्तार किया गया है। अंकिता 17 सितंबर की रात करीब आठ बजे इन तीनों लोगों के साथ ऋषिकेश गई थी। वापस आते हुए उससे बहस हुई और तीनों ने उसकी पिटाई कर अंकिता को गंगा नहर में धकेल दिया।

मामले की जांच के लिए बनाई एसआईटी

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता मर्डर केस की जांच के लिए एसआईटी बनाई है। अंकिता के पिता वीरेंद्र भंडारी ने कहा है कि हम बेटी का अंतिम संस्कार तब तक नहीं करेंगे, जब तक डिटेल्ड पोस्टमार्टम रिपोर्ट पब्लिक नहीं कि जाती। अंकिता के पिता ने सवाल उठाया कि जिस रिसॉर्ट में सबूत थे, प्रशासन ने उसे बुलडोजर से क्यों तोड़ा ऐसा करके सबूत मिटाए गए हैं।

ये भी पढ़ें : पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के 5,383 नए मामले

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news