सूर्यकुमार को टीम में शामिल करने की चर्चा में वजन

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
लीड्स टेस्ट में हार के बाद भारतीय टीम में बदलाव की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। कयास लगाए जा रहे हैं कि इस मैच में सही योगदान नहीं देने वाले खिलाड़ियों को बदला जा सकता है। इस पर विचार से भी इनकार नहीं कर सकते। ऐसे में एक नाम सूर्य कुमार यादव को मौका मिलने की उम्मीद लगाई जा रही है। उन्हें अगले मैच में सूर्यकुमार यादव को जगह मिल सकती है। रहाणे बीते कुछ समय से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं और टीम में उनकी जगह सवालों के घेरे में है। हालांकि टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते। चोपड़ा का मानना है कि चौथे टेस्ट मैच के लिए सूर्यकुमार यादव को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिलेगी।
अपेक्षा से कमतर रहा है मध्यक्रम:
भारतीय टीम का मध्यक्रम बीते कुछ समय से अपेक्षा के अनुसार खेल नहीं दिखा पा रहा है। कई विशेषज्ञ टीम में हनुमा विहारी को भी शामिल करने की मांग कर रहे हैं। अपने यूट्यूब चैनल पर जारी वीडियो में चोपड़ा से जब पूछा गया कि अगले मैच में वह हनुमा विहारी या यादव में से किसे प्लेइंग इलेवन में शामिल करेंगे?
इस पर चोपड़ा ने कहा कि सूर्यकुमार यादव- नहीं उन्हें टीम में जगह नहीं मिलने वाली। मैं उन्हें लेकर थोड़ा पक्षपाती हो सकता हूं। मैं उन्हें पसंद करता हूं लेकिन आप यादव को किसके स्थान पर टीम में शामिल करेंगे? क्या आप उन्हें छठे बल्लेबाज के तौर पर खिलाएंगे?’
पूर्व सलामी बल्लेबाज ने इसके पीछे का कारण भी दिया। चोपड़ा का मानना है कि चोटी के छह बल्लेबाजों में से किसी को भी टीम से बाहर नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा, ‘जो लोग खेल रहे हैं- रोहित, राहुल, पुजारा, कोहली, रहाणे और ऋषभ पंत- किसी को भी बाहर नहीं कर सकते। अगर ये छह खिलाड़ी बने रहते हैं तो फिपर यादव के लिए कोई जगह नहीं है।’
अगर भारतीय टीम अतिरिक्त बल्लेबाज के साथ उतरने का फैसला करती है तो यादव या विहारी को मौका मिल सकता है। विहारी ने सिडनी में मैच बचाने वाली पारी खेली थी, ऐसे में उन्हें अनुभव के आधार पर तरजीह मिल सकती है।
वहीं चोपड़ा को लगता है कि अश्विन को प्लेइंग इलेवन में जगह मिल सकती है। उन्होंने कहा, ‘अश्विन की बात करें तो आप ओवल में खेलने जा रहे हैं। वहां गेंद थोड़ी टर्न होती है और पिच थोड़ी सपाट है। वह सर्रे के लिए खेलते हैं और पिच को अच्छी तरह जानते भी हैं। ऐसे में उनके नाम पर विचार हो सकता है।
Latest news
Related news