सुप्रीम कोर्ट में हॉकी को आधिकारिक रूप से राष्ट्रीय खेल घोषित किए जाने वाली याचिका खारिज

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
सुप्रीम कोर्ट ने हॉकी को आधिकारिक रूप से राष्ट्रीय खेल घोषित किए जाने वाली याचिका पर सुनवाई से इंकार कर दिया है। याचिका दाखिल करने वाले वकील से कोर्ट ने कहा है कि इस मामले में कुछ नहीं कर सकते न ही ऐसा ओदश दे सकते हैं। आप इस बारे में सरकार को ज्ञापन सौंप सकते हैं।
बता दें कि हाल ही में टोक्यो ओलंपिक में भारतीय महिला और पुरुष हॉकी टीम का प्रदर्शन बहुत ही सराहनीय रहा था। इसके बाद से हॉकी को अधिकारिक रूप से राष्ट्रीय खेल घोषित किए जाने की मांग उठने लगी। इसको लेकर एक वकील विशाल तिवारी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल की, जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया।
उक्त वकील ने मांग की थी कि एथेलेटिक्स में सुविधाओं को बढ़ाया जाएं। इसके अलावा यह भी कहा था कि हॉकी भारत का गौरव है,जो अपनी पहचान खोता जा रहा है। इसलिए इसे आधिकारिक रूप से राष्ट्रीय खेल घोषित किया जाएं।

Latest news
Related news