सुधीर ने पॉवरलिफ्टिंग में सुधीर ने जीता गोल्ड मेडल, कॉमनवेल्थ गेम्स में बनाया नया रिकॉर्ड

वैभव शुक्ला, नई दिल्ली, (CWG 2022):

बर्मिघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (CWG 2022) में 7वें दिन भारत के लिए 2 पदक आए। पहले लॉन्ग जंप में मुरली श्रीशंकर ने सिल्वर मेडल जीता। इसके बाद पैरा पावरलिफ्टिंग में सुधीर ने देश के लिए पहला गोल्ड मेडल जीता। सुधीर ने देर रात पुरुषों के हेवीवेट कैटेगरी में 134.5 पॉइंट्स के साथ ऐतिहासिक गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

इसके साथ ही सुधीर ने कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड भी बनाया। इसके साथ ही इन गेम्स में सातवें दिन के बाद भारत के गोल्ड मेडलों की संख्या 6 और कुल मेडल 20 हो गए हैं।

पहले ही प्रयास में पहुंचे पहले स्थान पर

सुधीर कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में पैरा पावरलिफ्टिंग का गोल्ड जीतने वाले पहले भारतीय बन गए। सुधीर ने अपने पहले प्रयास में 208 किलो वजन उठाते हुए 132 से ज्यादा पॉइंट्स हासिल करते हुए पहले स्थान पर पहुंच गए। इस दौरान उन्हें नाइजीरियाई पावरलिफ्टर लगातार चुनौती दे रहे थे।

इसके बावजूद सुधीर ने दूसरे प्रयास में 212 किग्रा वजन उठाकर रिकॉर्ड 134.5 अंक हासिल कर लिए। नाइजीरिया के इकेचुकवु क्रिस्टियन उबिचुकवु अपने अंतिम प्रयास में 203 किलो का वजन उठाने में नाकाम रहे, जिसने सुधीर के गोल्ड मेडल पर मुहर लगा दी। हालांकि सुधीर भी अपने अंतिम प्रयास में 217 किग्रा वजन उठाने में नाकाम रहे।

लेकिन इससे नतीजे पर कोई असर नहीं हुआ और उन्होंने इन गेम्स में भारत के लिए कुल छठा गोल्ड मेडल जीत लिया। नाइजीरिया के इकेचुकवु क्रिस्टियन उबिचुकवु ने 133.6 अंक के साथ सिल्वर जबकि स्कॉटलैंड के मिकी यूले ने 130.9 अंक के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता।

पावरलिफ्टिंग में कैसे मिलते हैं पॉइंट्स?

पावरलिफ्टिंग में भार उठाने पर शरीर के वजन और तकनीक के अनुसार अंक मिलते हैं। समान वजन उठाने पर शारीरिक रूप से कम वजन वाले खिलाड़ी को दूसरे की तुलना में अधिक अंक मिलेंगे।

ये भी पढ़ें: राष्ट्रमंडल खेलों 2022 के 7वें दिन कई मेडल दांव पर, यहां जानिए पूरा शेड्यूल

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news