प्रदेशाध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने सीएम से की मुलाकात

सप्ताह में पांच दिन कांग्रेस भवन में बैठेंगे एक-एक मंत्री
मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 10 सदस्यीय ‘रणनीतिक नीति समूह’ गठित करने पर भी बनी सहमति
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
सत्ताधारी पक्ष और राज्य सरकार के दरमियान बेहतर तालमेल सुनिश्चित बनाने पर विभिन्न सरकारी पहलकदमियों, प्रोग्रामों और सुधारों को लागू करने में तेजी लाने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को एक 10 सदस्यीय ‘रणनीतिक नीति समूह’ गठित करने पर सहमति जताई है। इस समूह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री करेंगे। मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा, वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल और सामाजिक सुरक्षा मंत्री अरुणा चौधरी, नवजोत सिंह सिद्धू और पार्टी के चार र्वकिंग प्रधानों कुलजीत सिंह नागरा, सुखविन्दर सिंह डैनी, संगत सिंह गिलजियां और पवन गोयल और परगट सिंह समूह के सदस्य होंगे। यह फैसला शुक्रवार सुबह तब लिया गया जब नवजोत सिंह सिद्धू, कुलजीत सिंह नागरा और परगट सिंह समेत मुख्यमंत्री के साथ मुलाकात करने के लिए पहुंचे। समूह द्वारा जरूरत के अनुसार विचार-विमर्श के साथ साप्ताहिक बैठकें की जाएंगी। इन मीटिंगों में राज्य सरकार द्वारा पहले ही लागू की जा रही विभिन्न पहलकदमियों संबंधी विचार-विमर्श एवं समीक्षा होगी और इसके अलावा इनमें तेजी लाने संबंधी सुझाव भी दिए जाएंगे। एक अन्य फैसले के अंतर्गत कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने अपने कैबिनेट के सहयोगियों को प्रतिदिन पंजाब कांग्रेस भवन में बारी-बारी मौजूद रहने के लिए कहा है, जिससे विधायकों और पार्टी के अन्य अधिकारियों के साथ उनके हलकों/इलाकों से संबंधित मुद्दों संबंधी विचार-विमर्श कर किसी भी तरह की शिकायत को दूर किया जा सके। एक मंत्री कांग्रेस भवन में सोमवार से तीन घंटे (सुबह 11 से दोपहर दो) बजे तक मौजूद रहेगा और यदि किसी खास दिन के लिए तैनात मंत्री किसी कारण वहां मौजूद रहने में असमर्थ रहते हैं, तो वह किसी अन्य मंत्री के साथ सलाह करके अपना विकल्प मुहैया करवाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह प्रबंध हफ्ते में पांच दिन सोमवार से शुक्रवार तक लागू होगा।

Latest news
Related news