पंजाब सरकार के बजट में महिलाओं को लगा झटका, नहीं मिले एक हजार रुपए, सरकार बनते ही स्कीम लागू करने का दिया था भरोसा

इंडिया न्यूज़, चंडीगढ़:
पंजाब विधानसभा में सोमवार को पेश किए गए वर्ष 2022-23 के बजट ने प्रदेश की 18 वर्ष से ऊपर युवतियों और महिलाओं को मायूस किया है। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने बजट में रोजगार, महिला सुरक्षा आदि के लिए कई प्रावधान किए लेकिन महिलाओं को एक हजार रुपए प्रति माह देने की आम आदमी पार्टी की चुनावी गारंटी पर चुप रहे। बजट में इस गारंटी का न जिक्र किया गया और न ही कोई प्रावधान।

पंजाब में आप सरकार के तीन माह बीत जाने के बाद भी महिलाओं के खातों में एक हजार रुपए नहीं पहुंचे। प्रदेश में महिलाओं को प्रति माह एक हजार रुपए देने के लिए राज्य सरकार को प्रति वर्ष 12 हजार करोड़ रुपए की जरूरत होगी। लेकिन नए बजट में सरकार पहले ही भारी वित्तीय बोझ तले दबी दिखाई दे रही है। वित्त मंत्री ने 1,55,860 करोड़ रुपए के खर्च का बजट पेश किया है। वित्त मंत्री हरपाल चीमा से जब महिलाओं संबंधी गारंटी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि एक हजार रुपए प्रति माह देने की गारंटी अवश्य लागू की जाएगी, लेकिन थोड़ा वक्त लगेगा। उन्होंने कहा कि फंड की व्यवस्था होते ही इस योजना को लागू किया जाएगा।

ये भी पढ़ें : पूछताछ में खुलासा, 27 को सिद्धू मूसेवाला की कार का पीछा नहीं कर पाया था शूटर इसलिए 29 मई को की हत्या
ये भी पढ़ें : शिंदे गुट कर सकता है उद्धव सरकार से समर्थन वापसी का ऐलान, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई डिप्टी स्पीकर के नोटिस पर रोक
हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !
Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news