पंजाब सरकार ने बढ़ाए कर्मचारियों के भत्ते

चिकित्सकों को सबसे ज्यादा राहत
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
प्रदेश सरकार ने महंगाई से जूझ रहे प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को बड़ी राहत देते हुए उनके भत्ते बढ़ाने का फैसला लिया है। इससे प्रदेश के लाखों सरकार कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि होगी और महंगाई से जूझ रहे कर्मचारियों को वित्तीय राहत मिलेगी। इसको लेकर सरकार ने मंगलवार को नोटिफिकेशन जारी कर दिया। ज्ञात रहे कि छठे वेतन आयोग की रिपोर्ट से नाराज होकर संघर्ष कर रहे सरकारी कर्मचारियों लंबे समय से वेतन वृद्धि की मांग कर रहे है। जिसको मानते हुए पंजाब सरकार ने उन सभी भत्तों को बढ़ाने की मंजूरी दे दी है जिन्हें आयोग की रिपोर्ट में कम कर दिया गया था। नोटिफिकेशन में जारी आंकड़ों के अनुसार सरकार ने ज्यादातर भत्ते दोगुना कर दिए है। सरकार का कहना है कि बढ़े हुए भत्ते एक जुलाई, 2021 से लागू होंगे। हालांकि इस नोटिफिकेशन में सरकार ने सबसे बड़ी राहत डॉक्टरों को दी है, वित्त विभाग की नोटिफिकेशन के अनुसार (एलोपैथी, होम्योपैथी, आयुर्वेदिक व वेटरनरी) को 20 फीसद एनपीए मिलेगा। मूल वेतन बढ़ जाने के चलते एनपीए 25 से 20 फीसद होने के बावजूद उन्हें ज्यादा वेतन मिलेगा। सीनियर चिकित्सक डॉ. गुरविंदर सिंह वालिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने मूल वेतन और एनपीए को मिलाकर बनने वाली राशि पर 2.37 लाख रुपए की कैप लगाई हुई है। ऐसे में जो डॉक्टर एक जनवरी, 2016 से 30 जून, 2021 के बीच रिटायर हुए हैं उन्हें कितना एनपीए मिलेगा, नोटिफिकेशन में यह स्पष्ट नहीं है।

सिटी कंपनसेटरी भत्ता दोगुना हुआ

सिटी कंपनसेटरी भत्ता जिन शहरों में 100 रुपए था वहां अब 200 रुपए और जिन शहरों में 120 रुपए था वहां 240 रुपए होगा। वहीं ग्रामीण भत्ता अब छह के बजाए पांच फीसद होगा। परंतु बेसिक पे बढ़ जाने से यह राशि पहले से बढ़कर ही मिलेगी।

Latest news
Related news