पंजाब में रोडवेज कर्मी कल से हड़ताल पर

सफर के लिए लोगों को हो सकती है परेशानी
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
लंबित मांगों को लेकर प्रदेश में कॉन्ट्रेक्ट पर रखे रोडवेज कर्मी कल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा रहे हैं। इन कर्मियों के हड़ताल पर जाने से प्रदेश की यातायात व्यवस्था पर व्यापक असर पड़ने की संभावना है। वहीं इसके चलते यात्रियों की परेशानी भी बढ़ सकती है। ज्ञात रहे कि प्रदेश में पनबस के बेड़े में 1090 बसें शामिल हैं और उन्हें कांट्रेक्ट वर्कर्स ही चलाते हैं। इसके चलते तय है कि जब ये लोग काम पर नहीं होंगे तो ये बसें डिपो में ही खड़ी रहेंगी। इतनी ज्यादा संख्या में बसें न चलने के चलते यातयात पर दबाव रहेगा और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। ज्ञात रहे कि प्रदेश में रोडवेज विभाग में नियमित कर्मचारियों की संख्या काफी कम है। जिनकी पूर्ति सरकार ने कॉन्ट्रेक्ट पर कर्मचारी भर्ती करके की हुई है। लंबे समय से ये लोग अपनी मांगों को लेकर विरोध जताते आ रहे हैं। अब कोई हल न निकलता देख उन्होंने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला लिया है। उधर पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (पीआरटीसी) के कांट्रेक्ट मुलाजिम भी सोमवार को हड़ताल पर जाएंगे। पीआरटीसी में 797 एवं पीआरटीसी किलोमीटर स्कीम में 303 बसें शामिल हैं। पीआरटीसी में भी रेगुलर मुलाजिमों की भारी किल्लत है। अगर पंजाब रोडवेज एवं पनबस की 1537 बसों और पीआरटीसी की 1100 को जोड़ दिया जाए तो यह आंकड़ा 2637 बनता है और हड़ताल वाले दिन अगर पंजाब रोडवेज और पीआरटीसी के रिटायर होने से बचे हुए रेगुलर मुलाजिम बसें चलाते भी हैं, तो भी 2000 के लगभग सरकारी बसों का संचालन प्रभावित रहने की संभावना है।

Latest news
Related news