रोडवेज के कॉन्ट्रेक्ट कर्मियों की हड़ताल जारी

बुधवार को सरकार से वार्ता रही थी विफल
कल सीएम का घेराव करेंगे कर्मचारी
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
मांगों को लेकर रोडवेज के कॉन्ट्रेक्ट कर्मचारियों का संघर्ष चौथे दिन गुरुवार को भी जारी है। इससे पहले बुधवार को रोडवेज कर्मियों के प्रतिनिधियों और सरकार के प्रतिनिधियों की वार्ता विफल रही थी। कर्मियों ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्य सलाहकार सुरेश कुमार की पहले हड़ताल समाप्त करने की शर्त को मानने से मना कर दिया था। जिसके बाद कर्मचारी प्रतिनिधियों ने संघर्ष तेज करने की घोषणा कर दी थी। इसी संघर्ष के चलते हड़ताली कर्मचारियों ने गुरुवार को प्रदेश के सभी बस स्टैंड दो घंटे तक बंद रखने व शुक्रवार को सीएम के सिसवां फार्म हाउस का घेराव करनी की घोषणा कर दी।

सोमवार से हड़ताल पर हैं करीब दो हजार कर्मचारी

मांगों को लेकर जिसमें सबसे महत्वपूर्ण मांग कॉन्ट्रेक्ट पर रखे कर्मचारियों को पक्का करना है व अन्य मांगों को लेकर राज्य के करीब दो हजार कॉन्ट्रेक्ट कर्मचारी हड़ताल पर हैं। जिसके चलते प्रदेश में यातायात व्यवस्था काफी ज्यादा प्रभावित हो रही है। यात्रियों को आने जाने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कुछ नीजि वाहन इस मौके का फायदा उठाते हुए जमकर चांदी कूट रहे हैं।

कर्मचारियों को काम पर लौटने का नोटिस

उधर पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (पीआरटीसी) ने हड़ताली कर्मियों को बुधवार को नोटिस जारी करके गुरुवार से कार्य पर लौटने का आदेश दिया था। आदेश का पालन न करने वालों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करते हुए उनका ठेका रद्द करने की चेतावनी दी गई है।

Latest news
Related news