चार साल में बदला शिक्षा का स्तर: सिंगला

पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने 80 अध्यापकों का राज्य स्तरीय पुरस्कार दिए
कहा, 7 लाख विद्यार्थी प्राइवेट स्कूलों को छोड़ सरकारी स्कूलों में हुए दाखिल
इंडिया न्यूज, पटियाला:
पंजाब स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरपरस्ती अधीन करवाए गए वर्चुअल कम आॅफलाइन राज्य स्तरीय अध्यापक पुरस्कार वितरण समारोह के अवसर पर पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने शिक्षक दिवस के अवसर पर राज्य के 80 अध्यापकों को राज्य स्तरीय पुरस्कारों से सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व अधीन पंजाब सरकार ने पिछले 4 साल में राज्य के अंदर शिक्षा प्रणाली की समूची सूरत बदल दी है और इसके निष्कर्ष के तौर पर सरकारी स्कूलों के अध्यापकों की मेहनत की वजह से पंजाब देश भर में शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी बनकर उभरा है। विजय इंदर सिंगला ने पटियाला में थापर इंस्टीट्यूट आॅफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलॉजी के आॅडीटोरियम में पटियाला समेत संगरूर, साहिबजादा अजीत सिंह नगर और फतेहगढ़ साहिब के 23 अध्यापकों को सर्टिफिकेट देकर निजी तौर पर सम्मानित किया, जबकि बाकी अध्यापकों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा राज्य के बाकी जिला मुख्य कार्यालयों में सम्मानित किया गया। उन्होंने कहा कि शिक्षा का स्तर उठाने के लिए पहली कैबिनेट मीटिंग में अहम फैसले लिए गए, निष्कर्ष के तौर पर सरकारी स्कूलों में प्री-प्राइमरी शिक्षा चालू हुई और आज बाकी राज्य भी पंजाब की तर्ज पर शिक्षा सुधार अमल में ला रहे हैं। उन्होंने बताया कि सरकार के फैसलों और अध्यापकों की मेहनत की वजह से आज राज्य में 7 लाख विद्यार्थी प्राइवेट स्कूलों को छोड़ कर सरकारी स्कूलों में दाखिल हुए हैं और सरकारी स्कूलों के अध्यापक विद्यार्थियों के सही मार्गदर्शक बने हैं।

Latest news
Related news