मंत्री गजेंदर सिंह शेखावत का आरोप-सिद्धू की हत्या के जिम्मेदार भगवंत मान, केजरीवाल, चड्डा व डीजीपी

इंडिया न्यूज, Punjab News। Gajendra Shekhawat’s Allegation : केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंदर सिंह शेखावत (Gajendra Shekhawat) ने पंजाबी गायक शुभदीप सिंह सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala Murder) के उनके गांव पहुंचकर पीड़ित परिवार से संवेदना व्यक्त की। शेखावत ने मृतक के पीड़ित परिवार की इंसाफ की लड़ाई में भारतीय जनता पार्टी (BJP) द्वारा उनके कंधे से कंधा मिलाकर लड़ने एवं हर संभव सहायता का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर उनके साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा (Ashwani Sharma) एवं सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) भी उपस्थित थे। शेखावत ने कहा कि पंजाब सरकार व पुलिस-प्रशासन द्वारा की गई घोर लापरवाही और कुशासन से जहां कानून-व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है।

सिद्धू ने बहुत छोटी उम्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया

वहीं प्रदेश के संगीत के युवा पंजाबी आईकन सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala Murder) की हत्या हुई। शेखावत ने कहा कि सिद्धू मूसेवाला एक बहुत ही प्रतिभाशाली नौजवान था और उसने बहुत छोटी उम्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और अपना नाम रोशन करते हुए पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाई। उनके निधन से पंजाबी गायकी को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है।

घटना को टाला जा सकता था

 

उन्होंने कहा कि इस घटना को टाला जा सकता था लेकिन झूठी प्रसिद्धि पाने के लिए आम आदमी पार्टी के व्यवहार के कारण सिद्धू मूसेवाला की जान चली गई। सिद्धू मुसेवाला की हत्या (Sidhu Moosewala Murder) पंजाब की आम आदमी पार्टी की नाकामी का स्पष्ट प्रमाण है, क्योंकि सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा वापस ली गई थी।

आप के राज में पंजाब की कानून-व्यवस्था खत्म

जब से पंजाब में आम आदमी की पार्टी की सरकार बनी है तब राज्य में कानून-व्यवस्था खत्म हो गई है। मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Maan) द्वारा पंजाब के विभिन्न 424 लोगों की सुरक्षा वापस लेकर उनका जीवन बहुत बड़े खतरे में डाल दिया है। जबकि आम आदमी पार्टी के यह नेता खुद कड़ी सुरक्षा में रहते हैं।

आप नेताओं के पास सुरक्षा का ज्यादा कवर

शेखावत (Gajendra Shekhawat) ने कहा कि आप नेताओं में वीआईपी कल्चर खत्म करने की बातें करने वाले अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के खुद के पास 90 सुरक्षा कर्मी हैं, मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Maan) के पास 850 से भी ज्यादा, राघव चड्डा (Raghav Chaddha) के पास 45, भगवंत मान की माता के पास 20 एवं मान की बहन के पास भी 20 सुरक्षा कर्मी हैं।

सुरक्षा कटौती को सार्वजनिक करना वारदातों को न्योता देना है

सुरक्षा कटौती को सार्वजनिक करना अपराधियों व गैंगस्टरों को हत्याओं एवं अन्य वारदातों को अंजाम देने का खुला न्योता है। जिसके चलते सिद्धू मुसेवाला को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। शेखावत (Gajendra Shekhawa) ने कहा कि सिद्धू मुसेवाला का हत्या (Sidhu Moosewala Murder) के मुख्य जिम्मेदार अरविंद केजरीवाल, भगवंत मान, राघव चड्डा एवं पंजाब के डीजीपी हैं।

ये भी पढ़ें : 7 जून से पंजाब में 424 लोगों की VIP सुरक्षा फिर होगी बहाल, कोर्ट में आप को फटकार

ये भी पढ़ें : साकीनाका रेप और मर्डर के दोषी मोहन चौहान को फांसी की सजा, कोर्ट ने कहा-ऐसे दुर्लभ मामलों में कड़ी सजा देना जरूरी

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !
 

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news