तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा को दिया गया मानवता की सेवा के लिए लद्दाख का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

इंडिया न्यूज, लेह, (Tibetan Religious Leader Dalai Lama) : तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा को मानवता की सेवा के लिए लद्दाख का सर्वोच्च नागरिक सम्मान डीपाल आरएनजीम डस्टन पुरस्कार से सम्मानित किया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 87 वर्षीय दलाई लामा को यह पुरस्कार विशेषकर केंद्र शासित प्रदेश के लिए उनके योगदान को देखते हुए लद्दाख स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद (एलएएचडीसी) की ओर से दिया गया हैं।

डीपाल आरएनजीम डस्टन पुरस्कार से किया गया सम्मानित

एलएएचडीसी के स्थापना दिवस के मौके पर शुक्रवार को सिंधु घाट पर तिब्बती आध्यात्मिक गुरु को डीपाल आरएनजीम डस्टन पुरस्कार से सम्मानित किया गया। दलाई लामा 15 जुलाई से ही लद्दाख के दौरे पर हैं। उन्होंने इस पुरस्कार से सम्मानित किए जाने पर खुशी जताते हुए कहा है कि क्षेत्र में सांप्रदायिक सद्भावना बनाए रखना बेहद आवश्यक है। तिब्बती आध्यात्मिक गुरू ने कहा कि लद्दाख और तिब्बत धार्मिक और सांस्कृतिक समानता के साथ शक्तिशाली सिंधु नदी से जुड़े हुए हैं।

पर्यावरण के प्रति जागरूक होने का किया आह्वान

आध्यात्मिक गुरू ने बदलती हुई जलवायु पर चिंता व्यक्त करते हुए सभी से अपने कार्य में पर्यावरण के प्रति जागरूक होने का आग्रह किया। लद्दाख के सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि लद्दाख को इस शुभ अवसर पर 14वें दलाई लामा को अपना सर्वोच्च पुरस्कार प्रदान करने का अवसर मिला है। यह उनके जीवन का स्वर्णीम अवसर है। सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल और एलएएचडीसी के प्रमुख ने केंद्रीय सरकार से दलाई लामा को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित करने की अपील की है।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : शादी के छह साल बाद पहले बच्चे की उम्मीद कर रहे हैं बिपाशा बसु और करण सिंह ग्रोवर

ये भी पढ़े : टीनू वर्मा ने जब सैफ अली खान को मारा थप्पड, गैर-पेशेवर होने पर कही ये बात

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news