कोरोना काल में जान गवाने वाले लोगों के परिजनों को मिलेगी मदद

केजरीवाल सरकार ने 3700 से ज्यादा आवेदन किए मंजूर
इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
कोरोना संक्रमण के दौरान संक्रमित होने से जान गवाने वाले लोगों के आश्रितों के लिए सरकार ने राहत भरी सूचना जारी की है। इस दौरान जान गवाने वाले 3708 लोगों के आश्रित परिवारों को मुख्यमंत्री कोविड-19 परिवार आर्थिक सहायता योजना के तहत लाभांवित करने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी है। सरकार द्वारा जारी सूचि में  1,257 परिवारों को मासिक आर्थिक सहायता योजना के तहत और 2,451 परिवारों को एकमुश्त अनुग्रह भुगतान योजना के तहत लाभांवित किया जाएगा। सरकारी आंकड़ों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों योजनाओं के तहत करीब 6,291 आवेदन लंबित हैं, जिनकी विभिन्न स्तरों पर जांच चल रही है। विस्तृत जानकारी देते समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि संबंधित अधिकारियों को लाभार्थियों तक शीघ्र आर्थिक मदद पहुंचाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि आवेदन प्रक्रिया को परेशानी मुक्त बनाया जा रहा है, ताकि पीड़ित परिवारों को कार्यालय के चक्कर न लगाने पड़े।

सरकार ने मांगे थे आनलाइन आवेदन

गौतम ने कहा कि सरकार ने महामारी के दौरान अपने परिजनों को खोने वाले परिवारों की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया है। इसके लागू होने से ऐसे परिवारों को आर्थिक मदद मिलेगी जिन्होंने परिवार के ऐसे सदस्यों को खोया है जिसके बाद परिवार का गुजारा चल पाना मुश्किल हो गया है। राजेंद्र पाल गौतम ने बताया कि इसके लिए आनलाइन आवेदन मंगाए गए थे। दोनों योजनाओं के तहत अभी तक 9999 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से 3708 आवेदनों को जांच के उपरांत योजना का लाभ देने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। कुल 3763 आवेदन मिले हैं। इसमें से 1,257 आवेदनों को जांच के बाद स्वीकृत प्रदान कर दी गई है, जबकि 195 आवेदनों को आपत्तियों और अन्य कारणों की वजह से रद कर दिया गया है। वहीं 2311 आवेदन सत्यापन, नागरिकों द्वारा आपत्ति किए जाने और नागरिकों की तरफ से जवाब नहीं मिलने के कारण लंबित हैं।

Latest news
Related news