Kedarnath Dham: केदारनाथ धाम में सोने की परत चढ़ाने का तीर्थ पुरोहित कर रहे विरोध, रातभर मंदिर के बाहर दिया पहरा

Kedarnath Dham: Teerth priests protesting to offer gold plate in Kedarnath Dham, guarded outside the temple overnight

Kedarnath Dham: विश्व प्रशिद्ध केदारनाथ मंदिर में सोने की परत चढ़ाने का मामला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। केदारनाथ मंदिर में सोने की परत चढ़ाने का काफी लोग विरोध कर रहे हैं। इसके विरोध में मंदिर के बाहर रातभर केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहित ने पहरा दिया है। उन्हें इस बात का डर सता रहा था कि मंदिर समिति के कर्मचारी रात में मंदिर का दरवाजा खोलकर कार्य न कर लें। इसके चलते तीर्थ पुरोहित रात के अंधेरे में भी बारी-बारी से मंदिर के बाहर पहरा दे रहे हैं।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के एक दानी दाता की तरफ से केदारनाथ मंदिर के अंदर सोने की परत चढ़ाई जा रही है। यहां पर पहले 230 किलो चांदी की परते थीं। लेकिन अब उन्हें हटाकर यहां सोने की परते चढ़ाई जाएंगी। जिसके मद्देनजर तांबे की परतों को लगाकर ट्रायल भी शुरू हो चुका था। लेकिन गर्भ गृह में सोने की परत चढ़ाने का मंदिर के तीर्थ पुरोहित विरोध कर रहे हैं।

सोना-चांदी मढ़ने से पौराणिक परंपराओं के साथ खिलवाड़

मंदिर के पुरोहितों का कहना है कि “केदारनाथ धाम एक मोक्ष धाम है। यहां पर भक्त बाबा केदार के दर्शन करने के बाद मोक्ष प्राप्ति के लिये आते हैं, न कि सोने और चांदी को देखने। केदार धाम में सोना-चांदी मढ़ने से यहां की पौराणिक परंपराओं के साथ खिलवाड़ हो रहा है। आज तक यहां पर सोना नहीं था तो क्या तीर्थ यात्री यहां दर्शन के लिये नहीं आ रहे थे।” मंदिर के गर्भ गृह में सोने की परत चढ़ाये जाने के कार्य को रोकने के लिए उन्होंने बद्री-केदार मंदिर समिति के सीईओ को भी पत्र लिखा है।

मंदिर में सोने की परत चढ़ाने पर हो रहा विरोध

आपको बता दें कि केदार सभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला और अंकुर शुक्ला ने इसे लेकर कहा है कि “मंदिर के भीतर किसी भी हाल में सोने की परत नहीं चढ़ाने दी जायेगी.यदि जबरन कार्य किया जाता है तो इसका विरोध किया जायेगा”

Also Read: महिला स्व-सहायता समूहों सम्मेलन में शामिल हुए पीएम मोदी, कहा- ‘मेरा ये प्रयास रहता है जन्मदिन पर मां के पास जाऊं’

Latest news
Related news