प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल को लिखा पत्र

केंद्र सरकार पुरानी विशिष्टताएं जारी रखे: अश्वनी शर्मा
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
भाजपा पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने पंजाब के किसानों के हक में आवाज बुलंद करते हुए केंद्र सरकार के उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय मंत्री पियूष गोयल को पत्र लिख कर एफसीआई द्वारा पंजाब में धान और गेहूं की खरीद के मामले में जारी की नई विशिष्टताएं रद करने की मांग की है। शर्मा ने केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल से मांग की कि पंजाब की जलवायु परिस्थितियों को ध्यान में रख कर पुरानी गुणवत्ता के आधार पर ही किसानों की फसल की खरीद की जाए, ताकि उनकी फसल की खरीद पर कोई असर न पड़े। शर्मा ने कहा कि एफसीआई द्वारा गेहूं और धान की खरीद मामले में भारत सरकार के सार्वजनिक वितरण मंत्रालय द्वारा गठित विशेषज्ञ समिति की अनुशंसा में केंद्रीय नियंत्रण पूल के लिए गेहूं, धान व चावल के लिए नई गुणवत्ता 2 प्रतिशत खराब, 2 प्रतिशत रंगविहीन, 20 प्रतिशत टूटा हुआ और 14 प्रतिशत नमी घोषित की गई है, जो कि सरासर गलत है। उन्होंने कहा कि पहले यह गुणवत्ता 3 प्रतिशत खराब, 3 प्रतिशत रंगविहीन, 25 प्रतिशत टूटा हुआ और 15 प्रतिशत नमी चल रही थी। शर्मा ने मंत्री पियूष गोयल से मांग की कि पंजाब की जलवायु परिस्थितियों को ध्यान में रख कर किसानों से उनकी फसल पुरानी गुणवत्ता के आधार पर खरीद की जाए, ताकि उनकी फसल की खरीद पर कोई असर न पड़े। उन्होंने कहाकि सितंबर से नवंबर तक तापमान धीरे-धीरे कम होता है, जिसे किसानों के फसलों पर सीधा असर होता है। अश्वनी शर्मा ने केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल से व्यक्तिगत रूप से इस मामले में हस्तक्षेप कर पंजाब के किसानों की फसल की खरीद के लिए पुराने सिस्टम को ही नियमित रखने की मांग की।

Latest news
Related news