Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी गठित, मृतकों के परिजनों को 12 लाख घायलों को ढाई लाख देने का एलान

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी गठित, मृतकों के परिजनों को 12 लाख घायलों को ढाई लाख देने का एलान

इंडिया न्यूज़, जम्मू:

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan: माता वैष्णो देवी मंदिर में मची भगदड़ के दौरान जिन श्रद्धालुओं की जान गई है, उनके परिजनों को 10 लाख रुपए सहायता राशि के रूप में देने का एलान उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने के कर दिया है। वहीं जो लोग घायल हुए हैं उन्हें 2 लाख रुपए मदद के तौर पर दिए जाएंगे। मनोज सिन्हा ने हादसे पर दुख प्रकट करते हुए कहा कि घटना बहुत ही दुखद है।

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan
Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan

मामले की होगी उच्च स्तरीय जांच High level investigation will be done in the matter

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा स्थिति पर पूरी नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने घटना की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी व गृहमंत्री अमित शाह को दी है। वहीं  उपराज्यपाल ने घटना के कारणों का पता लगाने के लिए (High level investigation)उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं।  जांच कमेटी की अध्यक्षता गृह मंत्रालय के प्रिंसिपल सेक्रेटरी करेंगे। इस कमेटी में एडीजीपी जम्मू और डिवीजनल कमिश्नर जम्मू सदस्य होंगे।

 

मरने वालों में अधिकतर हरियाणा, पंजाब और दिल्ली के Most of the dead were from Haryana, Punjab and Delhi.

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan: कटड़ा ब्लाक मेडिकल के डॉक्टर गोपाल दत्त ने बताया है कि मरने वालों में ज्यादातर श्रद्धालु पंजाब हरियाणा और दिल्ली के रहने वाले हैं। वहीं 20 से अधिक लोग इस भगदड़ में घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए कटड़ा के नारायणा अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। फिलहाल माता का दरबार अस्थाई तौर पर बंद कर दिया गया है।

पीएम मोदी ने हादसे पर जताया दुख PM Modi expressed grief over the accident

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan: पीएम मोदी ने घटना में जान गंवाने वाले श्रद्धालुओं के परिजनों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की है और इस दुखद हादसे पर शोक प्रकट किया है।  वहीं मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है।  पीएम मोदी ने प्रशासन को आदेश दिए हैं कि हादसे में हुए घायलों को हर संभव चिकित्सकीय मदद और अन्य सहायता दी जाए।

Latest news
Related news