सरकार का फोकस अब ग्रीन ग्रोथ और ग्रीन जॉब्स पर : प्रधानमंत्री

इंडिया न्यूज, अहमदाबाद, (National Conference of Environment Ministers) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि आज का नया भारत नए दृष्टिकोण और नई सोच के साथ आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि अब सरकार का फोकस ग्रीन ग्रोथ के साथ ही ग्रीन जॉब्स पर है। दरअसल शुक्रवार को पर्यावरण मंत्रियों का राष्ट्रीय सम्मेलन था और पीएम ने कार्यक्रम के उद्घाटन अवसर पर ये बातें कहीं। गुजरात के अहमदाबाद में सम्मेलन का आयोजन किया गया और उन्होंने पीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिये कार्यक्रम को संबोधित किया।

ये भी पढ़े :  Kerala Bandh : छापों के विरोध में केरल में पीएफआई का प्रदर्शन, तोडफोड़, बम फेंके

75 साल बाद चीतों की वापसी से देश में नया उत्साह

पीएम मोदी ने कहा, हमारे वन क्षेत्र में बढ़ोतरी के साथ ही आर्द्रभूमि के क्षेत्र भी तेजी से विस्तार हो रहा है। उन्होंने कहा, सरकार का ग्रीन ग्रोथ व ग्रीन जॉब्स पर फोकस तो है, लेकिन इन सभी लक्ष्यों को हासिल करने के लिए हर राज्य के पर्यावरण मंत्रालय की भूमिका बहुत बड़ी है। हाल ही में नामीबिया से लाए गए चीतों का भी पीएम ने जिक्र किया। उन्होंने कहा कि 75 साल बाद चीतों की घर वापसी से देश में एक नया उत्साह है। कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में आठ चीते लाकर छोड़े गए हैं।

ये भी पढ़े : कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए मैं लडूंगा चुनाव : अशोक गहलोत

पंडित नेहरू ने जिस काम की शुरुआत की, उसे हमने पूरा किया : मोदी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में आरोप लगाया कि राजनीतिक और ‘अर्बन नक्सल’ समर्थन वाले ‘विकास विरोधी तत्वों’ ने पर्यावरण के नाम पर गुजरात में कई वर्ष तक नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध का निर्माण नहीं होने दिया। मोदी ने पर्यावरण मंत्रियों से कहा कि आप जहां बैठे हैं, एकता नगर की मिसाल आंखे खोलने वाली है।

पर्यावरण मंजूरी के नाम पर उलझाया जाता था निर्माण

उन्होंने कहा, हमने देखा है कि पर्यावरण मंजूरी के नाम पर किस तरह देश में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण को उलझाया जाता था। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के बिना, देश की जनता के जीवन स्तर में सुधार व देश के विकास का प्रयास कामयाब नहीं हो सकता। पीएम ने यह भी कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने जिस काम की शुरुआत की थी, उसे उन्होंने पूरा किया।

आजादी के तुरंत बाद पंडित नेहरू ने किया था शिलान्यास

पीएम ने पर्यावरण मंत्रियों से कहा, सरदार सरोवर बांध का शिलान्यास आजादी के तुरंत बाद पंडित नेहरू ने किया था, लेकिन अर्बन नक्सलों व विकास विरोधियों ने इसके निर्माण को रोककर रखा। सरदार वल्लभभाई पटेल की बांध के निर्माण में अहम भूमिका थी, लेकिन सारे अर्बन नक्सलों ने मैदान में आकर झूठा प्रचार किया और अभियान चलाकर आरोप लगाया कि यह पर्यावरण विरोधी है। यही कहकर इसे कई बार रोका गया।

आज भी खेल कर रहे अर्बन नक्सल

मोदी ने कहा, यह अर्बन नक्सल आज भी खेल कर रहे हैं। उनके झूठ पकड़े को वे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं है। प्रधानमंत्री ने कहा, ऐसे लोगों को कुछ लोगों का राजनीतिक समर्थन मिल जाता है। हमारे देश में विकास रोकने के मकसद से कई वैश्विक संस्थाएं भी तूफान खड़ा कर देती हैं और हमारे अर्बन नक्सल उन्हें माथे पर लेकर नाचते रहते हैं। नतीजा यह होता है कि निर्माण कार्य रुक जाते हैं। पीएम ने कहा, पर्यावरण की रक्षा से समझौता किए बगैर संतुलित रूप से विचार कर आगे बढ़ा जा सकता है। अर्बन नक्सल झूठे प्रचार से न्यायपालिका के साथ ही विश्व बैंक को भी प्रभावित करते हैं।

ये भी पढ़े : बारिश से अभी नहीं मिलेगी राहत, 17 राज्यों में अलर्ट

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

 

Latest news
Related news