Know About PM Security जानिए क्या है प्रधानमंत्री का ट्रैवल प्रोटोकॉल, कैसे होती है सुरक्षा-व्यवस्था

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली :

Know About PM Security देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी विशेष सुरक्षा समूह (SPG) की होती है। पीएम चाहे पैदल चल रहे हों या वाहन से, उनके चारों ओर SPG का घेरा होता है। दरअसल कल पंजाब में फिरोजपुर में पीएम मोदी की रैली थी और सड़क मार्ग से जाते समय एक जगह उनके काफिले को किसान संगठनों ने रोक लिया और हालात यहां तक बन गए कि प्रधानमंत्री को रैली रद करके वहीं से दिल्ली लौटना पड़ा। इसके बाद पीएम की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं।

Also Read : PM Security Lapse JP Nadda पुलिस की प्रदर्शनकारियों के साथ थी मिलीभगत

राज्य में प्रोगाम होने पर वहां की सरकार की होती है पूरी जिम्मेदारी (Know About PM Security)

पीएम का जिस भी राज्य में कार्यक्रम या रैली होती है तो उस राज्य की सरकार व स्थानीय प्रशासन ही उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालता है। एसपीजी और प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) से प्रशासन को समन्वय बनाकर पीएम की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालनी होती है।

Also Read : CM Channi on PM Security Breach: CM चन्नी ने पेश की सफाई, कहा- पीएम के वापस जाने का खेद

SPG पहले ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंचकर करती है मुआयना (Know About PM Security)

जहां भी कार्यक्रम होता है वहां SPG की टीम पहले पहुंचकर कार्यक्रम स्थल का मुआयना करती है। SPG की टीम में केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के कर्मी भी शामिल होते हैं। इसके अलावा राज्य की पुलिस और स्थानीय खुफिया विभाग की भारी भरकम टीमें मौके पर तैनात होती हैं। यानी पीएम को त्रिस्तरीय सुरक्षा मिलती है। केंद्रीय टीमों वह SPG के अधिकारियों की पहले लोकल पुलिस के साथ बैठक होती है जिसे एडवांस सिक्योरिटी लाइजनिंग कहा जाता है।

Also Read : PM Security Lapse Amit Shah माफी मांगें कांग्रेस के तमाम बड़े नेता

पहले ही तैयार कर लिया जाता है रूट का खाका (Know About PM Security)

पीएम के कार्यस्थल पर पहुंचने व वहां से निकलने को लेकर पहले ही रणनीति तैयार कर ली जाती है। अगर कार्यक्रम स्थल पर प्रधानमंत्री को हेलिकाप्टर से जाना है तो वह कैसे जाएंगे और आकस्मिक परिस्थितियों में अगर सड़क से जाना पड़े तो उनका काफिला कैसे जाएगा।

इसका पूरा खाका पहले बना लिया जाता है। पीएम के काफिले के मौके से निकलने से कीरब दस मिनट पहले रोड ओपनिंग टीम संबंधित रूट पर जाकर पुलिस व वरिष्ठ अधिकरियों से तालमेल करके रास्त क्लियर करवाते हैं। पूरे रूट की जानकारी सीक्रेट होती है। (Know About PM Security)

Also Read : Congress On Security Of Narendra Modi In Firozpur पीएम सुरक्षा में चूक भाजपा के वार पर कांग्रेस का पलटवार

Also Read : PM Security Lapse Case भारतीय किसान संघ (क्रांतिकारी) ने ली जिम्मेदारी

Connect With Us : Twitter Facebook

Latest news
Related news