सभी दलों के प्रिय थे कल्याण

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
चार जुलाई से सांस और संक्रमण की समस्या से जूझ रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने 21 अगस्त को आखिरी सांस ली। सोमवार को उनका नरौरा में गंगा तट पर अंतिम संस्कार होगा। उनके निधन से उनके अनुयायियों और आदर्श मानने वाले लोगों की भी सांसें अटक गई हैं। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उन्हें बड़ा भाई मानते थे और कई बार सार्वजनिक मंच से भी इसकी घोषणा कर चुके थे। वे पहली बार 1991 में पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे और अगले साल बाबरी मस्जिद ध्वंस की घटना के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उन्होंने एक बार फिर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से लेकर सांसद और राज्यपाल जैसी जिम्मेदारियां संभाली। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभाा अध्यक्ष ओम बिड़ला, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी समेत देश की जानी मानी हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक संदेश में लिखा कि मैं अपने दुख को शब्दों में बयां नहीं कर सकता। कल्याण सिंह जी एक स्टेट्समैन, वरिष्ठ प्रशासक, जमीनी नेता और एक महान इंसान थे। लोकसभाा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने ट्वीट करके लिखा है कि कल्याण सिंह जी के निधन से आज हमने एक ऐसा विराट व्यक्तित्व खो दिया जिसने अपने राजनीतिक कौशल, प्रशासकीय अनुभाव और विकासोन्मुखी दृष्टिकोण से राष्ट्रीय स्तर पर एक अमिट छाप छोड़ी। अपनी सहजता और सरलता के कारण वे जनप्रिय थे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने प्रदेश के विकास को नई गति दी। राजस्थान और हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल के तौर पर उनके अनुभाव का लाभ भी मिला।
बड़ा भाई खो दिया : राजनाथ सिंह
उत्तर प्रदेश की राजनीति में कल्याण सिंह के सहयोगी रहे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कल्याण सिंह के निधन पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि उन्होंने अपना बड़ा भााई खो दिया। कल्याण सिंह उ. प्र. ही नहीं भाारतीय राजनीति की वह कद्दावर हस्ती थे, जिन्होंने अपने व्यक्तित्व एवं कृतित्व से देश और समाज पर एक अमिट छाप छोड़ी। उनका लंबा राजनीतिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा में समर्पित रहा। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लिखा है, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान के निवर्तमान राज्यपाल व हम सभाी कार्यकतार्ओं के मार्गदर्शक व प्रेरणास्रोत आदरणीय कल्याण सिंह ‘बाबूजी’ जी के निधन पर उन्हें भाावभाीनी श्रद्धांजलि. उनका निधन भाारतीय राजनीति एवं भााजपा के लिए अपूरणीय क्षति है। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने भाी लिखा है, अपनी विशिष्ट कार्यशैली से उत्तर प्रदेश की राजनीति पर अमिट प्रभााव डालने वाले मृदुभााषी राजनेता और हमारे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का निधन दु:खद है। प्रभाु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें।
कांग्रेसी नेताओं ने भी युगपुरुष की संज्ञा
कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने भी कल्याण सिंह के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लिखा है राजस्थान के पूर्व राज्यपाल एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन से दुखी हूं। उनके परिवार के सदस्यों के प्रति मेरी संवेदना है। ईश्वर उन्हें इस कठिन समय में शक्ति प्रदान करें। दिवंगत आत्मा को शांति मिले।
कल्याण का निधन हृदय विदारक: अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा है उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह का निधन हृदय विदारक है। दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिवार को दुख सहने की शक्ति दे भागवान। विनम्र श्रद्धांजलि!

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने लिखा है भााजपा के कद्दावर नेता व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान के पूर्व राज्यपाल रहे श्री कल्याण सिंह के निधन की खबर अति-दु:खद. उनके परिवार व समर्थकों आदि के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। कुदरत उन सबको इस दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे।

SHARE
Latest news
Related news