Jahangirpuri Violence Reason And Facts : जानिए, हनुमान जयंती की शोभायात्रा के दौरान कैसे शुरू हुआ बवाल

Jahangirpuri Violence Reason And Facts : जानिए, हनुमान जयंती की शोभायात्रा के दौरान कैसे शुरू हुआ बवाल

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली :
बीते शनिवार 16 अप्रैल को हनुमान जयंती के अवसर पर देश की राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में देर शाम शोभायात्रा निकाली जा रही थी। इस दौरान शोभायात्रा पर कुछ उपद्रवों ने कथिततौर पर पत्थरबाजी की। इसके बाद दो समुदायों के बीच जमकर हिंसा हुई। पथराव, तोड़फोड़ और आगजनी में आठ पुलिस कर्मी और एक नागरिक घायल हुए हैं। एक सब इंस्पेक्टर को दंगाइयों की गोली लगी है। वे अस्पताल में भर्ती हैं और उनकी हालत में सुधार है। घटना की सूचना मिलते ही दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी सड़कों पर उतर आए। हालांकि माहौल अब भी नई दिल्ली में तनावपूणÊ बना है। तो चलिए जानते हैं शोभायात्रा के दौरान क्यों शुरू हुआ पथराव।

इस मामले में पुलिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पहले 9 लोग पकड़े गए, फिर 5 लोगों को अरेस्ट किया गया। पुलिस के मुताबिक, इलाके में तनाव है, लेकिन हालात पर काबू पा लिया गया है। वहां आएएफ की दो कंपनियां तैनात की गई हैं। दिल्ली के तमाम संवेदनशील इलाकों में पुलिस तैनात है और यहां हाई अलटÊ है।

कैसे शुरू हुआ विवाद  (Jahangirpuri Violence Reason And Facts)

Jahangirpuri Violence Reason And Facts

  • जहागीरपुरी में हनुमान जन्मोत्सव के जुलूस में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने एफआईआर दजÊ कर ली है। इसके अनुसार जामा मस्जिद के पास हुई मामूली बहस ने हिंसा का रूप धारण कर लिया था। कुछ ही देर में पथराव शुरू हो गया और शोभा यात्रा में भगदड़ मच गई।
  • बताते हैं कि जहांगीरपुरी के कुशल सिनेमा के पास शाम करीब 5:30 बजे शोभायात्रा पर अचानक पथराव हुआ। इसके बाद दो गुटों में झड़प हो गई। कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। कुछ वाहनों में आग भी लगा दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस टीम भी इसकी चपेट में आ गई।
  • हनुमान जयंती के दिन हुए इस उपद्रव को लेकर दोनों पक्षों के अपने अपने दावे हैं। शोभायात्रा निकालने वाले लोगों का कहना है कि पीछे से पथराव किया गया तो वहीं दूसरे पक्ष का दावा है कि शोभायात्रा की आड़ में उनके अलर्ट स्थल में घुसने का प्रयास किया गया। जिसके बाद उपद्रव शुरू हुआ।
  • उधर जमीयत उलेमा हिंद दिल्ली के मोहम्मद आबिद का दावा है कि जिस समय यह शोभायात्रा वहां से निकल रही थी, कई बार आई और फिर वापस गई। लोग धामिÊक स्थल में घुसने और अपना झंडा लगाने की कोशिश कर रहे थे।

क्या मस्जिद परिसर से शुरू हुई पत्थरबाजी

स्थानीय लोगों ने बताया कि जिस जगह से शोभायात्रा निकाली जा रही थी उसकी दूसरी तरफ मुस्लिम बहुल इलाका है और वहीं वो मस्जिद है, जहां से कथिततौर पर हिंसा शुरू हुई। पुलिस बैरिकेडिंग को पार करके उसी मस्जिद के पास पहुंची। मस्जिद परिसर के सामने और अंदर कुछ भगवा झंडे पड़े थे।

सड़क पर खड़ी भीड़ ने मोहल्लों में पथराव किया (Jahangirpuri Violence Reason And Facts)

Jahangirpuri Violence Reason And Facts

जहांगीरपुरी इलाके स्थानीय लोगों का कहना है कि एक तरफ से उन्मादी हुजूम आ रहा है और आगे बढ़कर पत्थरबाजी कर रहा है। वहीं एक तरफ से समुदाय विशेष की भीड़ अचानक जुटना शुरू हो जाती है और देखते ही देखते सड़कों पर सैकड़ों की तादाद में लोग आते हैं। इसके बाद पत्थर और कांच की बोतलें फेंकी जाने लगती हैं। सड़क पर खड़ी भीड़ दूसरे मोहल्लों में घुसकर लोगों के घरों में पथराव करने लगती है। पत्थरबाजी के साथ लोगों की दुकानें लूटी जाती हैं। वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की जाती है।

Additional Forces Deployed In Jahangirpuri: जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर हिंसा, इलाके में भारी पुलिस बल तैनात

पत्थरबाजी इतनी तेज हुई कि घरों तक पत्थर पहुंचे

जहांगीरपुरी जी ब्लॉकवासियों के चेहरे पर डर साफ दिख रहा है। वहां के लोगों का कहना है कि हमारे घर के सामने बहुत हंगामा हुआ। हनुमान जयंती के दिन शोभायात्रा पर मुसलमानों ने हमला कर दिया। लोगों के घरों तक पत्थर आए हैं। कई लोगों का कहना है कि गोली चलने की आवाजें तक सुनाई दी हैं। वहां प्रत्यक्षदशिÊयों का कहना है कि लोग अपने घर में टीवी देख थे और अचानक से जोर-जोर से आवाजें आने लगीं। बाहर निकलकर देखा तो सी-ब्लॉक वाले मुसलमान तलवार, चाकू, डंडे लेकर निकल रहे हैं। वो उन हिंदुओं को दौड़ा रहे थे जो शोभायात्रा का हिस्सा थे।

कई लोग फायरिंग में बाल-बाल बचे

 

शोभायात्रा में शामिल लोगों का कहना है कि जुलूस में भी उग्र नारे लग रहे थे और तलवारें लहराई जा रही थीं। बताया जाता है कि मस्जिद के पास जब शोभायात्रा निकली तो मस्जिद के ऊपर से ईंट पत्थर, गिरने लगे। मस्जिद के पास से करीब हजार की तादाद में टोपी पहने हुए भीड़ निकली। लोगों के हाथों में चाकू, तलवारें और देसी कट्टा भी था। कई लोग फायरिंग से बाल-बाल बचा हैं। बताया जा रहा है कि शोभायात्रा में दजÊनों लोग भगवा झंडे, तलवारें और कटारें लहरा रहे हैं। डीजे की चीखती हुई आवाज में कश्मीर और पाकिस्तान से जुड़े नारे और गाने बज रहे हैं। शोभायात्रा में लड़के चिल्ला रहे हैं और नाच रहे हैं।

CM Arvind Kejriwal On Delhi Riots: जहांगीरपुरी हिंसा पर बोले सीएम अरविन्द केजरीवाल, कहा- केंद्र की जिम्मेदारी दिल्ली में शांति व्यवस्था बनाएं

इलाके में पुलिस का पहरा

Jahangirpuri Violence Reason And Facts

बहरहाल, बजरंगबली के जन्मदिन के मौके पर शोभायात्रा और सांप्रदायिक हिंसा के तांडव के बाद पुलिस शांति कायम करने की कोशिश कर रही है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा, स्थिति नियंत्रण में है। जहां घटना हुई है वहां हमने फोर्स तैनात कर दी है। इसके साथ ही पूरी दिल्ली के संवेदनशील इलाकों में विशेष तैनाती की गई है। हम दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे।

यूपी में भी अलर्ट (Jahangirpuri Violence Reason And Facts)

दिल्ली में हुई घटना के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी राज्य में पुलिस प्रशासन को कड़ी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। दिल्ली से सटे नोएडा में भी शनिवार रात पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर लव कुमार भी इसमें शामिल रहे। उन्होंने बताया कि दिल्ली में घटना के बाद लोगों के मन में सुरक्षा का माहौल पैदा करने के लिए मार्च किया गया।

हिंसा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने जहांगीरपुरी में हुई घटना की निंदा की है। एलजी ने कहा है कि हिंसा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। हिंसा करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।

Manoj Tiwari On Jahangirpuri Violence: जहांगीरपुरी हिंसा पर बोले मनोज तिवारी, कहा- जिम्मेदारी से पल्ला न झाड़ें केजरीवाल

गृह मंत्री अमित शाह ने ली जानकारी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना से स्थिति की जानकारी ली। उन्हें लॉ एंड आॅर्डर बनाए रखने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। घटना के बाद जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। यहां रामनवमी के दिन पूजा को लेकर छात्रों के दो गुटों में मारपीट हुई थी।

दोषियों पर सख्त कार्रवाई हो

Jahangirpuri Violence Reason And Facts

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है। दिल्ली के जहांगीर पुरी में शोभायात्रा में पथराव की घटना बेहद निंदनीय है। जो भी दोषी हो उन पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। सभी लोगों से अपील है कि एक दूसरे का हाथ पकड़कर शांति बनाए रखें।

कांग्रेस ने शुरू की इंडिया अगेंस्ट हेट मुहिम

कांग्रेस ने देश भर में हो रहे सांप्रदायिक दंगे के बीच इंडिया अगेंस्ट हेट मुहिम शुरू की है। पार्टी ने ट्विटर प्रोफाइल चेंज करते हुए एक नंबर भी जारी किया है। शनिवार को सोनिया गांधी समेत 13 विपक्षी नेताओं ने साझा बयान जारी किया था। बयान में कार्यकतार्ओं से ग्राउंड पर जाकर शांति स्थापित करने की अपील भी की गई थी।  (Jahangirpuri Violence Reason And Facts)

 Read More: Jahangirpuri Hanuman Jayanti Violence: दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर निकली शोभयात्रा पर पथराव, उपद्रवियों के पथराव में कई पुलिसकर्मी घायल

Connect Us : Twitter Facebook

Latest news
Related news