बुड्ढे नाले में साफ पानी छोड़ने के प्रोजेक्ट का उद्घाटन

हर रोज छोड़ा जाएगा 200 क्यूसिक नहरी पानी
इंडिया न्यूज, लुधियाना:
बुड्ढे नाले को बुड्ढे दरिया में तब्दील करने के लिए रविवार को नीलों के निकट सरहिंद नहर से 200 क्यूसिक पानी छोड़ा गया। इस अवसर पर विधायक समराला अमरीक सिंह ढिल्लों, पायल के विधायक लखबीर सिंह लक्खा और मेयर लुधियाना नगर निगम बलकार सिंह संधू द्वारा 9.80 करोड रुपए की लागत वाले प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। जिसके तहत रोजाना 200 क्यूसिक ताजा पानी छोड़ा जाएगा। इस संबंधी आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए विधायकों और मेयर ने कहा कि यह कार्य सरहिंद नहर के नीलू ड्रेन द्वारा नहरी पानी को नाले में छोड़कर नाले को साफ करने के 650 करोड़ रुपए की लागत वाले प्रोजेक्ट का हिस्सा है। उन्होंने बताया कि प्रोजेक्ट अधीन कार्यकारी एजेंसी जल स्रोत विभाग ने शीट पाइलिंग तकनीक का प्रयोग करते हुए सरहिंद नहर से 200 क्यूसिक पानी ले जाने के लिए एक एसकेप रेगुलेटर का निर्माण, 4 गांवों की सड़कों के पुल, 5 खेत मार्ग, 2 डीगीयों की मरम्मत और परत, तीन गांवों की सड़कों पर पुलों की मरम्मत और नीलू नहर की सफाई का कार्य 8 महीनों के रिकॉर्ड समय के अंदर कंप्लीट किया है । पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड द्वारा फंड दिया गया है । उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार बुड्ढे दरिया को मूल रूप देने और इसकी पुरातन शान को बहाल करने के लिए वचनबद्ध है और इस विशाल कार्य की सिर्फ शुरुआत है। जो ड्रेन में से जहरीले पदार्थों का सफाया करने में सहायक सहायक सिद्ध होगी। उन्होंने बताया कि यह प्रोजेक्ट नगर निगम की सीमा में से निकलते 14 किलोमीटर लंबे बुड्ढे नाले में घरेलू पानी के गिरने को रोकने के लिए शुरू किया गया है और सिर्फ शुद्ध पानी ही दरिया में डाला जाएगा।

Latest news
Related news