गुजरात ने बदल दी देश की राजनीति : राजनाथ सिंह

प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी की बैठक में पहुंचे केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
अभिजीत भट्ट
केवड़िया (गुजरात)। केवड़िया में भाजपा कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित नेताओं ने सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस दौरान राजनाथ सिंह ने कार्यकारी बैठक में बड़ा बयान दिया कि आज पूरे भारत में आतंकवाद नहीं है। जिसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। गुजरात में सीआर पाटिल के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ता तकनीक के इस्तेमाल से मजबूत हुए हैं। विपक्ष ने बीजेपी को चुनाव जीतने वाली मशीन बताया। दरअसल, भाजपा लोगों का विश्वास जीतने की जमीन है। 2 साल में भारत ने 17 हजार करोड़ का निर्यात किया है। कुछ ही समय में भारत भी हथियारों के उत्पादन में पूरी तरह आत्मनिर्भर हो जाएगा। कांग्रेस को आयातित प्रतिभाओं को लाना है, जबकि गुजरात भाजपा के पास प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। किसी भी चीज का विरोध करना राहुल गांधी शब्द का पर्याय है। कविता के मंच से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गांधी नाम का खूब इस्तेमाल किया। इतना कि गांधी ने सरनेम भी रख लिया। लेकिन उन्होंने गांधी जी का काम छोड़ दिया। कांग्रेस सरकारों ने देश की भलाई के बजाय अपना भला किया है। कांग्रेस ने लोगों को फायदा पहुंचाने के बजाय भ्रष्टाचार बढ़ाया है। समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गुजरात में बीजेपी की सफलता का कारण यह है कि बीजेपी ने अपनी ताकत से लोगों की जिंदगी बदल दी है। गुजरात द्वारा प्रदर्शन की राजनीति की शुरुआत ने देश की राजनीति को बदल कर रख दिया है। इस बदलाव में नरेंद्र मोदी की बहुत अहम भूमिका रही है। पिछले 20 वर्षों से वे प्रदर्शन की राजनीति और अंतिम मानव हित से संबंधित हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की उपस्थिति में कार्यकारिणी बैठक में सीआर पाटिल के स्वागत भाषण के बाद शोक प्रस्ताव पेश किया गया। फिर केंद्र और राज्य सरकारों के काम के लिए धन्यवाद प्रस्ताव पेश किया जाएगा। इसके अलावा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह डिजिटल कनेक्ट गुजरात परियोजना का शुभारंभ करेंगे। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल कार्यकारिणी बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव लेकर आएंगे, साथ ही मिशन 2022 से जुड़े मौजूदा मामले भी लाएंगे। कार्यक्रम के अंतिम सत्र में सीआर पाटिल बैठक का समापन मुख्यमंत्री रूपाणी के संबोधन के साथ होगा।

Latest news
Related news