दिल्ली के डाक्टरों ने देश की राजधानी में फिर से कोरोना के मामले बढ़ने से जताई चिंता, कहा- बूस्टर डोज जरूरी

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली, (Delhi Doctors) : दिल्ली के डाक्टरों ने देश की राजधानी में फिर से कोरोना के मामले बढ़ने पर चिंता जताई है। डाक्टरों का कहना है कि बूस्टर डोज लेना हर किसी को नितांत आवश्यक है। इसके साथ ही कोविड नियमों का पालन करना भी अत्यंत आवश्यक है। लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल के एमडी डा सुरेश कुमार ने लोगों से बूस्टर डोज लेने के साथ कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन हर हाल में करने का आग्रह किया।

एएनआइ से बात करते हुए डा कुमार ने कहा कि दिल्ली में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं, अस्पताल में भर्ती होने के साथ-साथ सकारात्मकता दर भी बढ़ी है। 51 कोविड मरीज एलएनजेपी में भर्ती हैं, और हर दिन 14-15 मामले सामने आ रहे हैं। बढ़ती सकारात्मकता चिंता का सबब बन गया है। डा कुमार ने बताया कि अस्पताल में भर्ती मरीजों में से एक मरीज की हालत गंभीर है और उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है जबकि ज्यादातर मरीज आॅक्सीजन पर हैं। इसलिए लोगों को इस महामारी से सचेत रहने की जरूरत है।

कोविड से मौत के मामले है बहुत कम

डा कुमार ने आगे बताया कि मौत के मामले बहुत कम हैं। एलएनजेपी में पिछले 24 घंटों में कोविड के कारण कोई मौत नहीं हुई है। वेंटिलेटर की आवश्यकता भी बहुत कम पड़ रही है। लेकिन इसके बावजूद यह चिंता का विषय है जब सकारात्मकता 10 प्रतिशत से अधिक हो। प्रति दिन 500 बिस्तरों पर नये मरीज आते है। सकारात्मकता निश्चित रूप से 10 से ऊपर है, लेकिन अस्पताल में भर्ती बहुत कम है। केवल 4-4.5% बिस्तर भरे हुए हैं और 96 प्रतिशत खाली हैं। उन्होंने कहा बूस्टर खुराक सभी के लिए आवश्यक है। मामले बढ़ रहे हैं क्योंकि कोरोनोवायरस में उत्परिवर्तन बहुत अधिक है।

जब भी कोई नया कोविड वेरिएंट आता है तो यह एंटीबॉडी को भी करता है संक्रमित

जब भी कोई नया कोविड वेरिएंट आता है, तो टीका लगाने वाली आबादी को भी इससे उबरना पड़ता है। यह एंटीबॉडी को भी संक्रमित करता है। अधिकांश हल्के संक्रमण होते हैं। ज्यादातर रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती है। उनका आॅक्सीजन का स्तर कम नहीं है। बूस्टर खुराक लेना जरूरी है। अभी भर्ती मरीजों में एक मरीज है, जिसने बूस्टर खुराक भी ली है, लेकिन फिर भी उसे कोविड संक्रमण हो गया है।

दिल्ली में कारोना के मामलों में काफी देखी गई है तेजी

शुक्रवार को दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक बुलेटिन के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में नए कोरोना मामलों में काफी तेजी देखी गई। शहर में पिछले 24 घंटों में 2,419 ताजा संक्रमण दर्ज किया गया। जिसमें सकारात्मकता दर 13 प्रतिशत के करीब थी। भारत ने पिछले 24 घंटों में 19,406 ताजा कोरोना-19 मामले दर्ज किए गए। शनिवार को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय को सूचित किया।

कोरोना मामलों की संख्या अब 4,41,26,994 हो गई है। जिसमें 1,34,793 सक्रिय मामले शामिल हैं। कुल मामलों का 0.31 प्रतिशत सक्रिय मामले हैं। अभी रिकवरी रेट 98.50 फीसदी है। पिछले 24 घंटों में संक्रमण से 19,928 ठीक हुए हैं, जिससे कुल ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 4,34,65,552 हो गई हैं। इस आकड़े से यही लगता है कि लोगों को इस महामारी से अपने को सुरक्षित रखने के लिए सतर्कता काफी जरूरी है।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : शादी के छह साल बाद पहले बच्चे की उम्मीद कर रहे हैं बिपाशा बसु और करण सिंह ग्रोवर

ये भी पढ़े : टीनू वर्मा ने जब सैफ अली खान को मारा थप्पड, गैर-पेशेवर होने पर कही ये बात

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

 

Latest news
Related news