कोर्ट ने टेलर कन्हैयालाल के हत्यारोपियों को 10 दिन के रिमांड के लिए NIA को सौंपा, पेशी के दौरान भड़के वकीलों ने कर दी पिटाई

इंडिया न्यूज, Udaipur News। Udaipur Massacre : शनिवार को उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल के चारों हत्यारोपियों को जयपुर NIA कोर्ट में पेश किया गया। बता दें कि पेशी के दौरान अधिवक्ताओं ने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की और नारे भी लगाए। यही नहीं इस दौरान वकीलों ने आरोपियों के साथ मारपीट भी की और उनके कपड़े तक फाड़ दिए। इसके बाद पुलिस वकीलों को रोकते हुए उन्हें कोर्ट रूम ले गई।

कोर्ट ने आरोपियों को भेजा 10 दिन के रिमांड पर

बता दें कि पेशी पर कोर्ट में लाए गए आरोपियों को कोर्ट ने नेशनल इन्विस्टगेशन एजेंसी को 12 जुलाई तक 10 दिन के रिमांड पर सौंप दिया है। वहीं पुलिस इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार को कड़ी सुरक्षा में अजमेर से सुबह जयपुर लेकर पहुंची थी। दोनों यहां की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद थे। इनके अलावा भी दो अन्य आरोपी मोहसिन और आसिफ कन्हैयालाल की हत्या में शामिल पाए गए हैं।

प्रशासन ने कर्फ्यू में 4 घंटे की ढील देने का किया ऐलान

बता दें कि पांचवें दिन शनिवार को प्रशासन ने जिला मजिस्ट्रेट ताराचंद मीणा के आदेश के अनुसार उदयपुर में कर्फ्यू में 4 घंटे की छूट देने का ऐलान किया है। यह छूट दोपहर 12 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक रहेगी। ऐसे में वे अपनी रोजमर्रा की जरूरतों के लिए बाहर निकलें।

राजस्थान के 5 जिलों में बंद का ऐलान

वहीं कल जगन्नाथ रथयात्रा शांतिपूर्ण तरीके से निकलने के बाद आशा जताई जा रही थी कि शनिवार से कर्फ्यू में में कुछ राहत मिल सकती है। हालांकि, इंटरनेट रविवार तक बंद रहेगा। इस हत्याकांड के विरोध में शनिवार को भी राजस्थान के 5 जिलों में बंद का ऐलान किया गया है।

हत्यारों के सहयोगी मोहसिन और आसिफ से हो सकती है पूछताछ

वहीं, जांच एजेंसियां शनिवार को भी गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार से जुड़े कई एंगल पर जांच कर रही हैं। साथ ही शनिवार को गिरफ्तार किए गए इन दोनों के सहयोगी मोहसिन और आसिफ से भी पूछताछ हो सकती है। पुलिस के मुताबिक, इन दोनों युवकों का भी कन्हैयालाल की हत्या में हाथ था।

अधिकतर शहरों और बाजारों को रखा गया बंद

बता दें कि शनिवार को उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या के विरोध में अलवर सहित कई शहर बंद रहे। कोटा में हिंदू संगठनों की ओर से बंद किया गया था। जिसको स्थानीय व्यापारियों ने समर्थन दिया है।

अलवर में व्यापार संघ ने बंद रखा। वहीं भरतपुर में सर्व समाज और हिंदू संगठनों की ओर से बंद का आह्वान किया गया था। करौली शहर भी आज बंद रहा। वहीं श्रीगंगानगर में शनिवार को आधे दिन सुबह 9 से 1 बजे तक बाजार बंद रखे गए।

ये भी पढ़े :  देश के हर हिस्से में जल्द सक्रिय होगा मानसून, पंजाब में 6 तक भारी बारिश

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news