गुजरात में 6 घंटे में 12 इंच बारिश, 2 लोगों सहित 70 पशुओं की डूबने से मौत, जानें आगामी मौसम का हाल?

इंडिया न्यूज, Gujarat News। Floods In Gujarat : गुजरात में लगातार 2 दिन से मूसलाधार बारिश हो रही है। जिस कारण आणंद जिले की बोरसद तहसील के दर्जनों गांवों में बाढ़ आ गई है। बाढ़ से सबसे ज्यादा तहसील का सिस्वा गांव प्रभावित हुआ है। गांव पूरी तरह से डूब चुका है। लगभग 450 लोगों को गांव से सुरक्षित निकाला गया है।

70 पशु और 2 लोगों की मौत की खबर

बता दें कि गुजरात में शनिवार सुबह तक 27 जिलों की 118 तहसीलों में हल्की से भारी बारिश दर्ज की गई है। आणंद जिले की तहसील बोरसद में शुक्रवार को 6 घंटे में ही लगभग 12 इंच बारिश होने से सिस्वा गांव पूरी तरह डूब गया। वहीं डूबने से 2 लोगों की मौत हो। वहीं 70 पशुओं के भी मारे जाने की खबर है।

बाढ़ के कारण लोग स्थानान्तरण को मजबूर

बता दें कि बाढ़ के कारण हालात काफी खराब हो चुके हैं। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है। बोरसद और सिस्वा गांव से करीब 450 लोगों को स्थानान्तरित किया गया है। भादरण के अलावा 24 घंटे में सूरत जिले की कामरेज तहसील में 8 इंच के आसपास बारिश हुई। खेड़ा की नडियाद, भरुच जिले की वालिया, नर्मदा जिले की डेडियापाड़ा, सूरत की मांगरोल, सूरत सिटी, उमरपाड़ा तहसीलों में भी चार इंच से अधिक बारिश हुई।

6 तहसीलों में एक बूंद भी बारिश नहीं, कुछ में अनुमानित 10 प्रतिशत बारिश पूरी

ऐसा माना जा रहा है कि राज्य में अब तक मौसम की लगभग 10 फीसदी बारिश हो चुकी है। पिछले 30 वर्षों में हुई बारिश के आधार पर प्रतिवर्ष की औसत बारिश 850 मिलीमीटर (लगभग 33 इंच) है। इसके मुकाबले अब तक औसतन 85 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है, जो लगभग 10 फीसदी है।

राज्य की 250 तहसीलों में से 13 तहसीलों में मौसम की 10 इंच से अधिक बारिश हो चुकी है। जबकि 39 तहसीलों में 5 इंच से अधिक, 90 में 2 इंच से अधिक और 103 तहसीलों में 2 इंच से कम बारिश हुई है। जबकि 6 तहसील ऐसी भी हैं जहां अब तक बिल्कुल बारिश नहीं हुई है।

24 घंटों में माणावदर में 103 मिमी बारिश हो चुकी

बताया जा रहा है कि जूनागढ़ जिले की माणावदर तहसील में 3 घंटे में 4 इंच, वंथली में 3 इंच और जूनागढ़ शहर में 2 इंच बरसात होने से जलभराव के हालात हैं।

शुक्रवार से शनिवार सुबह तक माणावदर 103 मिमी, वंथली में 72 मिमी, जूनागढ़ में 47 मिमी, माणीयाहाटीना में 52 मिमी, मांगरोल में 31 मिमी, विसावदर में 23 मिमी, मेंदरडा में 13 मिमी, केशोद में 12 मिमी, भेंसाण में 15 मिमी बारिश हो चुकी।

आगामी एक सप्ताह तक जारी रहेगा बारिश का दौर

वहीं सूचना मिली है कि वराछा क्षेत्र में सबसे अधिक 12 इंच बारिश हुई है। जिस कारण निचले इलाकों और सोसायटियों में जलभराव हो गया है। बारिश का यह दौर आगामी एक सप्ताह तक जारी रहेगा।

वहीं मौसम विभाग की ओर से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मूसलाधार बारिश के कारण नानपुरा, कादरशाह की नाल, सगरामपुरा, नवसारी बाजार, चौक बाजार, वेड दरवाजा, कतारगाम, होड़ी बंगलो, अमरोली, मोटा वराछा, नाना वराछा, कामरेज, डिंडोली, लिम्बायत, उधना, पांडेसरा समेत कई इलाकों में जलभराव हो गया है।

ये भी पढ़े : फतेहाबाद के गांव रत्ताखेड़ा में दो पक्षों में विवाद, 5 डीएसपी व प्रशासनिक अधिकारी पुलिसबल के साथ तैनात

ये भी पढ़े : अमरावती में दवा व्यापारी की हत्या भी उदयपुर हत्याकांड की तरह टारगेट किलिंग का दावा, घटना से जुड़े दो सीसीटीवी फुटेज जारी

ये भी पढ़े :  इस बार 6 दिन पहले पूरे देश में पहुंचा मानसून, मौसम विभाग ने जताई अच्छी बारिश की उम्मीद

ये भी पढ़े : चीफ जस्टिस एनवी रमण बोले-लोकतंत्र में न्यायपालिका की भूमिका को नहीं समझ रहे लोग

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news