राजू श्रीवास्तव की अंतिम यात्रा हुई शुरू, निगमबोध घाट पर दी जाएगी अंतिम विदाई

कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव का बुधवार सुबह एम्स में निधन हो गया है। इसके बाद ना सिर्फ मनोरंज जगत में बल्कि पूरे देश में शोक की लहर देखने को मिली। बता दें कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की अंतिम यात्रा शुरू हो गई है। दिल्ली के दशरथपुर, द्वारिका से उनकी शवयात्रा निकाली जा रही है। अंतिम संस्कार दिल्ली के निगमबोध घाट पर होगा। डेढ़ महीने से ज्यादा समय तक वेंटिलेटर पर रहने के बाद आखिरकार 21 सितंबर को 58 साल की उम्र में राजू का निधन हो गया।

वर्कआउट के दौरान राजू को आया था हार्ट अटैक

बता दें 10 अगस्त को दिल्ली के एक होटल में वर्कआउट के दौरान राजू को हार्ट अटैक आया था और वह बेहोश होकर गिर गए थे। इसके तुरंत बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। उनका परिवार राजू के ठीक होने के लिए पूजा कर रहा था और फैंस दुआएं मांग रहे थे। अस्पताल में 41 दिन तक मौत को चकमा देने वाले राजू आखिरकार इस जंग को हार गए।

मध्यम वर्गीय परिवार से नाता रखते थे राजू 

25 दिसंबर 1963 को कानपुर के एक मध्यम वर्गीय परिवार में राजू श्रीवास्तव का जन्म हुआ था। उनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव नामी कवि रहे हैं। हालांकि जानकारी मिल रही है कि राजू श्रीवास्तव की पार्थिव देह कानपुर नहीं ले जाई जाएगी। उनका अंतिम संस्कार 22 सितंबर को सुबह दिल्ली में निगमबोध घाट पर ही किया जाएगा।

अंतिम यात्रा में शामिल होंगे ये लोग 

अंतिम यात्रा के लिए परिजनों के अलावा, कई रिश्तेदार, नेता और सेलिब्रिटीज भी राजू के घर पहुंचे। कल शाम से द्वारिका के दशरथपुर में उनकी अंतिम यात्रा की तैयारी चल रही थी। राजू की पार्थिव देह को दिल्ली के निगमबोध शमशान ले जाया जाएगा। यहां पूरे विधि-विधान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा।

Latest news
Related news