अशोक गहलोत का बड़ा ऐलान नहीं लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव, सोनिया गांधी से माफी मांगी

अशोक गहलोत ने सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद ये ऐलान कर दिया कि वे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे.बता दें राजस्थान के मुख्यमंत्री ने आज (गुरुवार को) दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने हालात को देखते हुए फैसला लिया है कि वो अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे.

सोनिया गांधी से माफी मांगी

राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. ये बैठक करीब 1.30 घंटे चली. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से 50 साल में मुझे कांग्रेस पार्टी ने इंदिरा गांधी के समय से ही चाहें, कोई भी अध्यक्ष रहा, मुझे हमेशा विश्वास करके जिम्मेदारी दी गई. राहुल गांधी ने जब फैसला किया, उसके बाद भी घटना हुई, उस घटना ने हिलाकर रख दिया. पूरे देश में मैसेज चला गया कि मैं सीएम बना रहना चाहता हूं. मैंने इसके लिए सोनिया गांधी से माफी मांगी है. मैं कांग्रेस का वफादार हूं.

सीएम पद को लेकर कही ये बात

वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री पद को लेकर गहलोत नें कुछ भी साफ तौर पर नहीं कहा. उन्होंने कहा, राजस्थान के सीएम पद का फैसला आलाकमान (सोनिया गांधी) करेगा.

 

Latest news
Related news