जानिए फूड डायरी के बेहतरीन फायदे

इंडिया न्यूज़, Health Tips : एक फूड डायरी रखना आपके लिए हर रोज के लिए बहुत जरूरी चीजों के बारे में एक आइडिया देने में मदद करती है। अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो डायट को बेहतर करना चाहते हैं या अपनी खाने की आदत को थोड़ा बेहतर बनाना चाहते हैं, तो फूड डायरी (Food diary) बनाना और उसे तैयार करना आपके लिए फायदेमंद है।

जिससे की आपको ये जानने में भी मदद मिलेगी कि कौन से फूड्स आपमें नेगेटिव लक्ष्ण है। अगर आपको आंत की बीमारी (Irritable bowel syndrome) और एसिड रिफ्लक्स (Acid reflux) जैसी समस्याएं हैं, तो यह आपके लिए बहुत लाभदायक है। तो फूड डायरी (Food diary) से आप जो भी आप खाते हैं उसे पता करने में मदद मिल सकती है। आप जो भी खाते है, उसे लिखना आपके लिए शुरू में थोड़ा मुश्किल हो सकता है, लेकिन बाद में यह आसान हो जाएगा। आइए जानें फूड डायरी के बारे में।

फूड डायरी (Food diary) किसे कहा जाता है?

फूड डायरी एक औजार है जिसका इस्तेमाल हम पूरे दिन में जो खाते या पीते हैं, उसे पता करने के लिए किया जाता है। इससे आप इन चीजों को आसानी से पता कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको बहुत फायदा होगा।

आपके कितनी मात्रा में किस चीज को कंज्यूम किया है
खाने का समय और जगह का पता करने में करती है
किस फूड को अपने किस चीज के साथ खाया है
हर आहार और स्नेक से पहले,

आपको फूड डायरी (Food diary) या जर्नल को मेंटेन करने की सलाह डॉक्टर या डायटीशियन भी दे सकते हैं। ताकि, वो आपकी ईटिंग है बिट्स के बारे में अच्छे से जान पाएं। इससे उन्हें इस बात का भी पता चलता है कि किस आहार या चीज का सेवन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। कई लोग फूड डायरी (Food diary) को कुछ दिनों या हफ्तों तक मेंटेन रखते हैं। अब जानते हैं कि फूड जर्नल के फायदे क्या हैं?

फूड डायरी के क्या हैं फायदे?

इसमें कोई शक नहीं है, कि फूड डायरी (Food diary) बनाने से आप इस बात का पता रख सकते हैं कि आपने पूरे दिन में क्या खाया है। फ़ूड डायरी के फायदे इस प्रकार है।

  • हेल्दी हैबिट्स (Healthy habits) में मदद मिलती है

अपने फूड और ड्रिंक्स इंटेक को ट्रेस करने से ईटिंग हैबिट्स के बारे में आपको जानकारी मिल सकती है। इससे आप यह जान पाएंगे और आपके लिए अनहेल्दी हैबिट्स कौन सी हैं और आप उन्हें हेल्दी से रिप्लेस कर सकते हैं। इसके साथ ही अपने रोज के खाने को लेकर भी आप अधिक जागरूक होंगे। यही नहीं, नोट करने से आप अपनी न्यूटरिशियस पसंद के बारे में भी अधिक जान पाएंगे।

  • वजन कंट्रोल में रहेगा (Control weight)

weight will be under control

अगर आप अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो फूड डायरी (Food diary) फूड की निगरानी करने का एक अच्छा ऑप्शन है और आप इससे जान पाएंगे कि आप कितनी मात्रा में खाना खा रहे हैं। यह इस बारे मेंपता लग जाता है, कि कौन से खाद्य पदार्थ, फीलिंग्स या अन्य एक्सटर्नल फैक्टर्स आपको हाय फैट्स, शुगर या कैलोरी युक्त आहार को कयूम करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

अगर आप वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो भी यह एक बेहतरीन टूल है। इस का उपयोग करने से आपको पता चल जाता है, कि आप कितना खा रहे हैं। अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो इससे आपको उसमें भी मदद मिल सकती है।

  • फूड सेंसिटिविटीज (Food sensitivity) को पहचानें

फूड डायरी (Food diary) या फूड जर्नल बनाने से आप फूड सेंसिटिविटी को भी आयडेंटिफाय कर सकते हैं। जैसे अगर आपको आंत की बीमारी (irritable bowel syndrome) की समस्या ,है तो कुछ खास फूड्स डायजेस्टिव इशूज, जैसे- पेट पेन, गैस, ब्लोटिंग या डायरिया को ट्रिगर कर सकते हैं। ऐसे ही अन्य समयस्याएं, जैसे-फूड एलर्जी, एसिड रिफ्लक्स और नॉन-सेलिएक ग्लूटेन सेंसिटिविटी आदि कुछ फूड्स या ड्रिंक्स से बदतर हो सकती है।

  • फूड डायरी (Food diary) मैंटेन करने के लिए पाएं कुछ टिप्स

आपको फूड डायरी या फूड जर्नल मैंटेन करना इतना मुश्किल नहीं है और न ही टाइम कंज्यूमिंग है। लेकिन, शुरुआत में इसे मैंटेन करने में आपको थोड़ी समस्या हो सकती है। इसे मेंटेन रखते हुए आपको इन चीजों का ध्यान रखना चाहिए।

  • इसमें सब कुछ नोट करें

चाहे बात भोजन की हो या स्नैक की या किसी ड्रिंक की। अपनी फूड डायरी (Food diary) में आपको सब कुछ नोट करना है। अगर आपको किसी चीज से एलर्जी हो रही है, तो यह बेहद जरूरी है। कुछ खास फूड्स की छोटी सी मात्रा से भी आपके लक्षण प्रभावित हो सकते हैं।

इसी तरह से पूरे दिन की स्नैकिंग से आपकी कैलोरीज, कार्ब्स और शुगर में भी बदलाव आ सकता है। अगर आप वजन कम कर रहे हैं या कैलोरीज को मॉनिटर कर रहे हैं, तो इसे कंसीडर करना बेहद जरूरी है। अगर आप इस तरिके से फ़ूड डायरी में सब कुछ नोट करना चाहिए। ऐसा करने से आपको बहुत फायदा होगा।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : सुबह बिना अलार्म के कैसे उठें, जानिए आसान और असरदार टिप्स सुबह जल्दी उठ कर करें ये उपाय

ये भी पढ़े : बारिश के मौसम में नाखूनों को ‘फंगल इंफेक्‍शन’ से बचाने के लिए इन 8 टिप्सों को अपनाएं

ये भी पढ़े : Independence Day 2022 : स्वतंतत्रता दिवस पर तैयार करें स्पेशल स्पीच, बहुत काम आएंगे ये टिप्स

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news