टोक्यो पैरालंपिक संपन्न, अवनि ने किया समापन समारोह में भारत का नेतृत्व 

इंडिया न्यूज, टोक्यो :
टोक्यो पैरालंपिक 2020 रविवार को दुनिया भर के एथलीटों के कुछ शानदार प्रदर्शनों के साथ संपन्न हो गया। टीम इंडिया के लिए ये गेम्स ऐतिहासिक साबित हुए। इसमें  भारत के एथलीटों ने 19 पदक जीते, जिनमें से पांच स्वर्ण शामिल हैं। टोक्यो पैरालंपिक समापन समारोह की अध्यक्षता 19 वर्षीय निशानेबाज अवनि लेखरा ने की, जिन्होंने मेगा-स्पोर्टिंग इवेंट में स्वर्ण और कांस्य दोनों पदक जीते थे। पीसीआई अध्यक्ष दीपा मलिक ने अपने ट्विटर हैंडल पर अवनि लेखारा का एक वीडियो शेयर किया, जिसमें अवनि खेलों के समापन समारोह में ध्वजवाहक के रूप में टीम इंडिया के दल का नेतृत्व करते हुए दिखीं। दीपा मलिक ने यह भी शेयर किया कि अवनी पहली भारतीय महिला  हैं जिन्होंने टोक्यो पैरालंपिक में तिरंगे के साथ मार्च किया। टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों का आयोजन 24 अगस्त से 5 सितंबर के बीच हुआ। इसमें 22 खेलों में 539 पदक स्पर्धाएं शामिल थी। पैरालंपिक खेलों में नौ खेल विधाओं में भारत के कुल 54 पैरा-एथलीटों को शामिल किया गया था। समापन समारोह में भारतीय दल के कुल 11 सदस्य उपस्थित थे। समारोह की शुरुआत एक युवा लड़के की कहानी से हुई, जिसने पैरालंपिक खेलों को देखने के बाद पैरालंपिक के प्रभाव को महसूस करना शुरू किया। टीम इंडिया ने कुल 19 पदक हासिल करके टोक्यो पैरालंपिक में अपने अभियान को उच्च स्तर पर समाप्त किया, जिसमें 5 स्वर्ण, 8 रजत और 6 कांस्य पदक शामिल हैं। भारत ने खेलों में 9 खेल विधाओं में 54 पैरा-एथलीटों की अपनी अब तक की सबसे बड़ी टुकड़ी भेजी। बैडमिंटन और ताइक्वांडो ने टोक्यो में अपनी शुरूआत की, दोनों का प्रतिनिधित्व भारत ने किया। 1968 में पैरालंपिक में अपनी पहली उपस्थिति बनाने के बाद से, भारत ने 2016 के रियो ओलंपिक तक कुल 12 पदक जीते थे। देश ने अब अकेले टोक्यो पैरालिंपिक 2020 में उस पूरी संख्या में 7 पदकों से बड़े पैमाने पर सुधार किया है। कुल 162 देशों में से भारत कुल पदक तालिका में 24वें स्थान पर है, जबकि 19 पदकों की उपलब्धि पदकों की संख्या के आधार पर 20वें स्थान पर है। टोक्यो से लौटने के बाद भारतीय पैरालंपिक दल आठ सितंबर को केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से मुलाकात करेगा। इसके बाद 9 सितंबर को पीएम मोदी के साथ बैठक करेगा।
Latest news
Related news