अमेरिका के टेक्सास में भारतीयों को गाली देने वाली महिला गिरफ्तार

पुलिस ने महिला को शारीरिक चोट और आतंकवादी खतरों के आरोप में गिरफ्तार किया है.

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली): अमेरिकी राज्य टेक्सास में गुरुवार को एक अमेरिकी महिला को भारतीय-अमेरिकी महिलाओं के साथ नस्लीय दुर्व्यवहार और मारपीट का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद गिरफ्तार किया गया है.

घटना बुधवार रात टेक्सास के डलास में हुई। अमेरिका में पैदा हुए मैक्सिकन होने का दावा करने वाली महिला  भारतीय-अमेरिकी महिलाओं के एक समूह को “भारत वापस जाने” के लिए कहती है.

आरोपी महिला ने कहा की “आई हेट यू फू ***** इंडियंस। ये सभी भारतीय, बेहतर जीवन के लिए अमेरिका आते हैं। … तुम हमारे देश में आते हो और सब कुछ मुफ्त में चाहते हो। मैं एक मैक्सिकन-अमेरिकी हूं और मैं यहां पैदा हुए थी, महिला की पहचान बाद में एस्मेराल्डा अप्टन के रूप में हुई.

भारतीय-अमेरिकी महिलाओं में से एक ने एस्मेराल्डा के साथ तर्क करने की कोशिश की और पूछा, “आपको क्या लगता है कि हम अमेरिकी नहीं हैं?” इस पर एस्मेराल्डा ने जवाब दिया, “यह आपके बोलने का तरीका है। क्योंकि मैं मैक्सिकन-अमेरिकी हूं और मैं अंग्रेजी बोलती हूं।”

एस्मेराल्डा ने बोलना जारी रखा उसने कहा “यदि भारत में जीवन इतना महान है, तो *** तुम अमेरिका में क्यों हो।” एस्मेराल्डा ने भारतीय-अमेरिकी महिलाओं के साथ मारपीट भी की और उन्हें कैमरा बंद करने के लिए कहा। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी की कार्यकर्ता रीमा रसूल ने एक पोस्ट पोस्ट करते हुए कहा, “यह बहुत डरावना है। उसके पास वास्तव में एक बंदूक थी और वह गोली चलाना चाहती थी क्योंकि इन भारतीय-अमेरिकी महिलाओं के अंग्रेजी बोलने के लहजे अलग थे। यह घृणित है। इस भयानक महिला पर घृणा अपराध के लिए मुकदमा चलाने की जरूरत है.

“गुरुवार 25 अगस्त, 2022 को, लगभग सुबह 3:50 बजे, प्लानो पुलिस डिटेक्टिव्स ने प्लानो की एस्मेराल्डा अप्टन को शारीरिक चोट और आतंकवादी खतरों के आरोप में गिरफ्तार किया और 10,000 अमरीकी डॉलर की कुल बांड राशि उसे भरने को कहा.

Latest news
Related news