यूक्रेन पर मोदी के बयान को फ्रांस, अमेरिका ने सराहा

16 सितम्बर को समरकंद में पीएम मोदी ने बयान दिया था.

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली, France, US hail PM Modi’s advice to Putin over Ukraine): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संयुक्त राष्ट्र महासभा में यूक्रेन युद्ध पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को उनके संदेश के लिए अमेरिका और फ्रांस द्वारा सराहा गया.

16 सितंबर को समरकंद में एससीओ शिखर सम्मेलन के मौके पर, पीएम मोदी ने भोजन, ईंधन सुरक्षा और उर्वरकों की समस्याओं के समाधान के तरीके खोजने की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा था कि “आज का युग युद्ध का नहीं है”। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने मंगलवार को (स्थानीय समयानुसार) यूक्रेन पर पीएम मोदी के बयान का स्वागत किया.

मैक्रो ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिया बयान

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि “नरेंद्र मोदी, भारत के प्रधानमंत्री सही थे जब उन्होंने कहा कि समय युद्ध का नहीं है। यह पश्चिम के खिलाफ बदला लेने के लिए नहीं है, या पूर्व के खिलाफ पश्चिम का विरोध करने के लिए नहीं है। यह हमारे संप्रभु समान राष्ट्रों के लिए सामूहिकता का समय है। हमारे सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए।”

व्हाइट हाउस के एक बयान में सुलिवन ने कहा: “मुझे लगता है कि “प्रधानमंत्री मोदी ने जो कहा सही और न्यायपूर्ण है, उनके सिद्धांत पर आधारित है। संयुक्त राज्य अमेरिका इस बयान का स्वागत करता है। भारत कि तरफ से यह बयान जो लम्बे समय से रूस का सहयोगी रहा है, रूस सरकार को यह बताने के लिए काफी है कि अब युद्ध को खत्म करने का समय आ गया है।”

अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने भी की तारीफ़

अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने भी पीएम मोदी के बयान कि प्रशंसा की। अमेरिकी मीडिया नेटवर्क सीएनएन ने विश्व राजनीति पर पीएम मोदी की पकड़ की प्रशंसा की और बताया, “भारतीय नेता नरेंद्र मोदी ने पुतिन से कहा: अब युद्ध का समय नहीं है।”

जबकि एक अन्य अमेरिकी प्रकाशन द वाशिंगटन पोस्ट की हेडलाइन थी “मोदी ने यूक्रेन में युद्ध को लेकर पुतिन को फटकार लगाई”। न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने शीर्षक में कहा, “भारत के नेता ने पुतिन से कहा कि अब युद्ध का युग नहीं है।” यह बयान वाशिंगटन पोस्ट और द न्यूयॉर्क टाइम्स दोनों के डिजिटल पेज पर मुख्य कहानी थी.

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने इस बयान के जवाब में कहा था कि उन्हें यूक्रेन संघर्ष पर भारत की स्थिति के बारे में पता है। पुतिन ने कहा था, “मैं यूक्रेन संघर्ष पर आपकी स्थिति के बारे में जानता हूं। मैं आपकी चिंताओं के बारे में जानता हूं। हम चाहते हैं कि यह सब जल्द से जल्द खत्म हो।”

पुतिन ने यह भी कहा था कि वह इस युद्ध के बारे में पीएम मोदी को समय-समय पर अवगत कराते रहेंगे.

Latest news
Related news