Ankita Murder Case: अंकिता हत्याकांड में मां ने की दोषियों फांसी देने की मांग, कहा- मुझे मेरी बेटी का शव तक नहीं…

अंकिता हत्याकांड ने पूरे देश को झंझोड़ कर रख दिया है, कल अंकिता का अंतिम संस्कार किया गया। उत्तराखंड के साथ-साथ पूरे देश में इस मामले को लेकर लोगों में रोश है और आज अंकिता की मां का बयान सामने आया है, अंकिता की मां ने कहा की सबसे पहले चाहती हूं कि फांसी हो जाए उन लोगों को वो कहती थी कि मैं कमा के घर बनाऊंगी पूरी सर्दियां हमने पत्थर इकट्ठे किए कहती थी मम्मी दो कमरे बनाएंगे.

अंकिता की मां ने कहा कोई मां बाप अपनी बेटी को पढ़ाए ही ना इतनी मेहनत से मां-बाप ने अपनी बेटी को पढ़ाया और अब कौन अपनी बेटी को घर से बाहर भेजेगा। मुझे इन लोगों से डर लग रहा है यह लोग बड़े लोग हैं और कुछ भी कर सकते हैं मैं अपने बेटे को अब कहीं भी नहीं भेज सकती।

अंकिता की मां ने कही अंतिम संस्कार किए जाने पर ये बात 

अंकिता की मां ने अंतिम संस्कार किए जाने पर भी ये बात की एक बार मेरी बेटी को मुझे दिखाना तो चाहिए था कि वह किस हाल में है। मुझे नहीं पता यह फैसला किसका था, मुझे हॉस्पिटल में रखा था, मुझे तब पता चला जब उसको घाट पर ले गए थे तो उसका अंतिम संस्कार करने ले गए हैं। मैंने तो सुबह ही बोल दिया था कि जब तक मेरी बेटी की रिपोर्ट नहीं मिलेगी मैं यहां से हिलूंगी भी नहीं, मैंने अपनी बेटी को आखिरी बार देखा भी नहीं अभी इसी भ्रम में जी रही हूं कि मेरी बेटी अभी है।

क्या है अंकिता हत्याकांड?

उत्तराखंड के ऋषिकेश के एक रिजॉर्ट में एक रिसेप्शनिस्ट की पोस्ट पर काम करने वाली 19 साल की अंकिता की हत्या कर दी गई। इस मामले में यौन उत्पीड़न का एंगल भी था, रिपोर्ट में अंकिता की मौत डूबने से बताई गई और यह भी बताया गया है कि शरीर पर चोट के निशान भी थे यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि अंकिता को चोट कैसे लगी थी

अंकिता जिस रिजॉर्ट में काम करती थी उसका मालिका बीजेपी नेता व पूर्व मंत्री विनोद आर्य का बेटा पुलकित आर्य है पुलकित आर्य, रिजॉर्ट के मैनेजर सौरभ भास्कर और एक कर्मचारी अंकित गुप्ता पर अंकिता की हत्या करने का आरोप है, तीनों आरोपी इस वक्त जेल में है।

ये भी पढ़ें- Delhi Transgender News: ट्रांसजेंडर लोगों को क्यो नहीं मिलती सर पर छत, दिल्ली महिला आयोग ने दिया समन

Latest news
Related news