“वी वीमेन वांट” शो में महिला अधिकारों और उसके कानूनी पक्षों पर हुए चर्चा,कानून के जानकारों ने की शिरकत

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली): वी वीमेन वांट के तीसरे शो में महिला अधिकारों के क़ानूनी पक्षों पर चर्चा हुए,शो में उन क़ानूनी अधिकारों पर गंभीरता से चर्चा हुए जिसके बारे में हर महिला को जानकारी होनी चाहिए,उन्हें शादी,यौन शोषण,सम्पत्ति के अधिकार और गर्भपात के नियमो की जानकारी होनी चाहिए,ताकि वह अपने न्याय के लिए लड़ सके और न्याय पा सके,यह कार्यक्रम आईटीवी नेटवर्क के न्यूज़ एक्स चैनल पर प्रकाशित हुआ.

आईटीवी नेटवर्क की वरिष्ठ कार्यकारी संपादक प्रिय सहगल ने वरिष्ठ वकील पिंकी आनंद और भारत की पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल मालविका राजखोटिया से चर्चा की,दोनों लोगो ने महिलाओ के अधिकार के लिए कड़ा संघर्ष किया है,शो की शुरुआत भारत में गर्भपात कानूनों के सवाल से शुरू हुए,यह शो अमेरिका की तुलना में कही अधिक प्रगतिशील और महिला उन्मुख है,चर्चा में वैवाहिक दुष्कर्म का मुद्दा भी आया,मालविका राजखोटिया ने कहा की यह कोई आपराधिक अपराध नहीं है,हालांकि महिला घरेलू हिंसा अधनियम के तहत निवारण की मांग कर सकती है.

वरिष्ठ वकील पिंकी आनंद ने कहा की महिलाओ को सशक्त होना होगा तभी वह कानून के तहत न्याय प्राप्त कर पाएंगी,महिलाओ पर पुरुष के नियंत्रण का बड़ा हिस्सा समाज के पितृसत्तात्मक प्रकृति से उपजा है जिसमे हम रहते है,इस कारण महिलाओ को शुरू से दबाब में रहना पड़ता है,इस शो में दर्शको ने महिला अधिकारों से जुड़े सवाल भी मेहमानो से पूछे,यह काफी उत्साह से भरा सत्र रहा,दर्शको और मेहमानो में अच्छा तालमेल रहा,न्यूज़ एक्स का यह शो बातचीत से समाधान की ओर जाता है,जहां हर बिंदु पर हर महिला कुछ न कुछ सीखती है.

यह शो न्यूज़ एक्स पर शनिवार शाम 7.30 बजे,रविवार दोपहर 12.30 बजे और रात 10 बजे प्रकाशित होता है.

Latest news
Related news