Winter Preparation:जाने क्या है सर्दियों में इस्तेमाल होने वाली पेट्रोलियम जेली के फायदे और नुकसान

पेट्रोलियम जेली खनिज तेलों और मोम के मिश्रण से बनती है, यह ना केवल त्वचा को फटने से बचाती है बल्कि डलनेस भी नहीं होने देती। ज्यादातर लोग इसका उपयोग सिर्फ अपने होठों को फटने से बचाने के लिए या फिर स्किन पर मॉइश्चराइजर की तरह लगाने के लिए करते हैं लेकिन इसे और भी कई तरह से उपयोग किया जा सकता है।

एड़ियों को फटने से बचाए

आप अपने होठों पर जिस तरह दिन में कम से कम दो बार पेट्रोलियम जेली लगाते हैं उसी तरह आप सुबह नहाने के बाद और रात को सोने से पहले इसे अपनी एड़ियों पर लगाएं। ये आपकी एड़ियां फटने से भी बचाएगी और इन्हें गुलाबी रखने में भी मददगार होगी।

जले हुए पर लगाएं

जलने के निशान लंबे समय तक ना पड़े रहें इसके लिए आप जली हुई स्किन पर पेट्रोलियम जेली लगाना शुरू कर सकते हैं जब घाव पूरी तरह ठीक हो जाए तब इससे यह पपड़ी सॉफ्ट होकर झड़ेगी साथ में अंदर से जो त्वचा आएगी उस पर गहरे निशान नहीं होंगे।

छोटे बच्चो के लिए 
कैसे नुकसान पहुंचाती है पेट्रोलियम जेली?

यदि आपकी स्किन बहुत अधिक सेंसेटिव है तो आपको इससे एलर्जी की समस्या हो सकती है, इसलिए आप जब भी पेट्रोलियम जेली का उपयोग करें पहले पैच टेस्ट जरूर करें।

1.पेट्रोलियम जेली में ऑइल और वैक्स होने के कारण यह महीन डस्ट पार्टिकल्स को बहुत जल्दी अपनी तरफ खीच लेती है। इसलिए आप इससे जुड़ी स्वच्छता और हाइजीन का जरूर ध्यान रखें इसके जार और कैप को समय-समय पर साफ करते रहें।

2.पेट्रोलियम जेली का उपयोग कुछ लोग इंटिमेट होते समय लूब्रिकेशन के लिए भी करते हैं, ऐसा ना ही करें तो आपकी सेहत के लिए अच्छा है नहीं तो जलन और इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।

यह भी पढ़ें- Health Tips: खाने के लिए तेल खरीदते वक्त ना करें ये गलतियां, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

Latest news
Related news