फेफड़ों में सूजन के लक्षण, नजर आने पर करें यह घरेलू उपचार

इंडिया न्यूज़, Symptoms Of Lung Inflammation : फेफड़ों में होने वाली सूजन से आपको कई तरह की परेशानी का सामना करना पड़ता है कि फेफड़ों में सूजन से दमा की बीमारी हो जाती है। ये काफी खतरनाक बीमारी होती है जो जानलेवा भी हो सकती है। फेफड़े (Lungs) हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग हैं।

जब भी इंसान सांस लेता है तो हर सांस के साथ जितनी ज्यादा ऑक्सीजन शरीर के अंदर पहुंचती है। हमारे फेफड़े जितने स्वस्थ्य होंगे, शरीर उतना ही सेहतमंद बना रहता है। लेकिन कोरोना काल में सबसे ज्यादा खतरा फेफड़ों पर ही मंडरा रहा है। फेफड़ों में होने वाली सूजन (Swelling in Lungs) के बारे में जिससे आपको कई तरह की परेशानी झेलनी पड़ती है।

फेफड़ों में सूजन के लक्षण होना

फेफड़ों में सूजन के लक्षण अचानक दिखाई दे सकते हैं या समय के साथ विकसित हो सकते हैं। इसके लक्षण फुलाव होने पर निर्भर करते हैं। आमतौर पर इसके लक्षणों में सांस में कठिनाई, सांस की अत्यधिक कमी, घुटन या डूबने की भावना होना, थूक वाली खांसी, खांसी में खून, सांस लेते समय घबराहट या हांफना, ठंडी, रूखी त्वचा, चिंता, बेचैनी और अनियमित महसूस होने लगती है। इस तरह के लक्षण होने लगते है।

आइए जानते हैं इससे बचने के घरेलू नुस्खे

  • अधिक मात्रा में पानी पिएं

drink more water

फेफड़ों की सेहत के लिए यह बहुत जरूरी होता है। पानी से फेफड़े हाइड्रेट (गीले) बने रहते और फेफड़ों की गंदगी इसी गीलेपन की वजह से बाहर निकल पाती है और फेफड़े सेहतमंद बने रहते हैं तो आपको ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए।

  • लहसुन-प्याज का सेवन करें

eat garlic and onion

इसमें एलिसिन नाम का तत्व पाया जाता है ये सूजन व जलन कम करता है और इन्फेक्शन को दूर करने में मदद करता है। ये फेफड़ों में घुसे प्रदूषक कणों को खत्म कर देता है। दमा में लहसुन का सेवन लाभकारी होता है। फेफड़े कैंसर में भी ये बहुत लाभकारी होता है।

  • फैटी एसिड युक्त खाना खाएं

eat fatty acid foods

फैटी एसिड पूरे शरीर की सेहत के लिए बहुत जरूरी हैं कि ये दमा में भी बहुत लाभकारी है। यह आपको अखरोट, बींस, दूध से बनी चीजों और अलसी के बीजों से मिलेगा। इन चीजों का सेवन जरूर करें।

इन चीजों को खाने से बचें

  • स्मोकिंग से दूर रहें

stay away from smoking

धूम्रपान का सेवन न करें, क्योंकि इसी वजह से फेफड़े खराब होने के लक्षण होते है और जल्दी खराब हो जाते है वातावरण में मौजूद एलर्जी से बचें क्योंकि वे आपके फेफड़ों को परेशान कर सकते हैं। यदि संभव हो, तो उन दिनों पर बाहर न निकलें जब यह बहुत ठंडा या बहुत गर्म होता है क्योंकि यह आपके फेफड़ों को परेशान कर सकता है।

  • शराब का सेवन न करें

शराब और ड्रग्स जैसे का सेवन करने सेआपको दमा का कारण बन सकती हैं, बल्कि इसके लक्षणों को भी खराब कर सकती हैं। यदि आपको सांस फूलने की बीमारी है। तो आपको इन सभी पदार्थों को छोड़ देना चाहिए।

  • भारी एक्सरसाइज

भारी एक्सरसाइज को (पल्मोनरी एडिमा) यानि सांस फूलने की बीमारी के लक्षणों को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। यदि आप दिन भर शारीरिक गतिविधियों में बिजी रहते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आपको अपने श्वसन तंत्र को आराम देने के लिए हर घंटे के बाद आराम मिले। यदि आप पहले से ही इस रोग से पीड़ित हैं तो आपको शारीरिक गतिविधियों से बचना या कम करना है।

निष्कर्ष : फेफड़ों में सूजन होने पर आप इन घरेलू उपचार को करें। आपको बहुत फायदे होगा।

Disclaimer : इन उपचार को भी अपनाकर देखना चाहिए और डॉक्टर की सलाह भी लें। इन घरेलू नुस्खों पर ही आधारित न रहें।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : सुबह बिना अलार्म के कैसे उठें, जानिए आसान और असरदार टिप्स सुबह जल्दी उठ कर करें ये उपाय

ये भी पढ़े : बारिश के मौसम में नाखूनों को ‘फंगल इंफेक्‍शन’ से बचाने के लिए इन 8 टिप्सों को अपनाएं

ये भी पढ़े : Independence Day 2022 : स्वतंतत्रता दिवस पर तैयार करें स्पेशल स्पीच, बहुत काम आएंगे ये टिप्स

ये भी पढ़ें : जानिए फूड डायरी के बेहतरीन फायदे

ये भी पढ़ें : शारीरिक स्वास्थ्य, सबंधी ध्यान रखने योग्य बातें

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news