प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आप नवरात्री में व्रत रख रहीं है तो रखें इन खास बातों का ध्यान

Navratri 2022: – देशभर में नवरात्र का त्योहार बड़े जोश और उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। खासतौर पर उत्तर भारत में लोग मां दूर्गा के 9 स्वरूपों को पूजते हैं और व्रत भी रखते हैं। बता दें, हेल्थ एक्सपर्ट्स दिल की बीमारी, डायबिटीज़, बीपी या प्रेग्नेंसी में व्रत रखने की सलाह नहीं देते हैं। हालांकि, प्रेग्नेंसी में जो महिलाएं व्रत कर रही हैं, उन्हें अतिरिक्त सावधानियां बरतने की ज़रूरत होती है, ताकि उनके शरीर में पोषण की कमी न हो और बच्चे के विकास पर इसका असर भी न पड़े।

रखें इन खास बातों का ध्यान

अगर आप भी प्रेग्नेंसी के दौरान नवरात्र के उपवस करने की सोच रही हैं, तो बेहतर है कि नीचे बताई गई बातों का भी पूरा ध्यान रखें।

  • खूब सारा पानी पिएं, ताकि शरीर हाइड्रेट रहे। पानी के अलावा आप नारियल का पानी, स्मूदी, छाछ, नींबू पानी, लस्सी आदि भी पी सकती हैं। ध्यान रहे कि एक सांस में कुछ भी न पी लें, बेहतर है कि छोटे-छोटे घूंट पिएं।
  • प्रेग्नेंसी के दौरान कब्ज़ की समस्या आम हो जाती है, इसलिए इससे बचने के लिए फाइबर से भरपूर खाना ज़रूर खाएं। मौसमी फलों और खीरा, टमाटर, गाजर आदि जैसी सब्जियां फाइबर से भरी होती हैं।
  • प्रेग्नेंसी में अगर आप व्रत रख रही हैं, तो दिन में छोटे-छोटे मील्स लेते रहें। एसिडिटी, मतली या बदहज़मी से बचने के लिए मील्स के बीच में 2 से 3 घंटे का गैप ज़रूर रखें।
  • साबुत अनाज में कार्ब्स होते हैं, जो आपको पूरे दिन ऊर्जा देने का काम करते हैं। आम चावल और आटे की जगह कुट्टू के आटे, सिंघाड़े का आटा और राजगिरा के आटे का उपयोग करें।
  • साबुदाने को भी खिचड़ी या खीर के रूप में खाया जा सकता है।
  • दूध, दही, पनीर जैसे डेयरी प्रोडक्ट्स रोज़ 2 से 3 बार खाएं।
  • आलू के चिप्स, आलू की पूरियां, टिक्की, साबुदाना की टिक्की आदि जैसे तले और प्रोसेस्ड फूड्स ज़्यादा न खाएं। हालांकि, आप भुने हुए मखाने और अखरोट, बादाम और किशमिश जैसे नट्स का सेवन कर सकती हैं।

 

ये भी पढे़:- इस दिन से शुरु हो रहा है भगवान विष्णु का प्रिय माह कार्तिक मास, जानिए तिथि और इसका महत्व – India News

Latest news
Related news