डिस्क प्रॉब्लम में सर्जरी या स्टेरॉयड नहीं, दो दवाओं का कॉकटेल है कारगर

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली :

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है मेरुदंड यानी रीढ़ की हड्डी का क्षरण (किसी पदार्थ के कणों का धीरे-धीरे गिरना) भी होने लगता है। डिस्क का जो काम है वो वर्टब्री के बीच कुशन और आधार (सपोर्ट) देने का है। इसलिए अगर इसमें क्षरण हो तो पीठ के निचले हिस्से में काफी दर्द होता है। लेकिन वैज्ञानिकों का दावा है कि इस समस्या का एक कॉकटेल इलाज ढूंढ लिया गया है। जो उम्र के साथ डिस्क का क्षरण कम कर सकता है।

अमेरिका की थॉमस जेफरसन यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने पाया है कि दो सेनोलाइटिक दवा- डैस्टेनिब और क्वेरसेटिन को यदि युवावस्था में इंजेक्शन के रूप में दिया जाए, तो बुढ़ापे में डिस्क की इस समस्या में कमी आ सकती है।

Latest news
Related news